इस वजह से क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में खेलना चाहते हैं रवींद्र जडेजा खुद बताई वजह

टीम इंडिया के प्रमुख स्पिनर गेंदबाजों में से एक रविंद्र जडेजा भारत के लिए तीन प्रारुप में खेलना चाहते हैं और इसके पीछे उन्होंने बड़ी वजह भी बताई है । उन्हें लगता है कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खुद को अच्छी फॉर्म में रखने के लिए टेस्ट खेलना ही काफी नहीं है। बता दें की इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम टेस्ट मैच के पहले दिन 57 रन देकर विकेट चटकाया है । 

0
96

जयपुर (स्पोर्ट्स डेस्क)। टीम इंडिया के प्रमुख स्पिनर गेंदबाजों में से एक रविंद्र जडेजा भारत के लिए तीन प्रारुप में खेलना चाहते हैं और इसके पीछे उन्होंने बड़ी वजह भी बताई है । उन्हें लगता है कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खुद को अच्छी फॉर्म में रखने के लिए टेस्ट खेलना ही काफी नहीं है। बता दें की इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम टेस्ट मैच के पहले दिन 57 रन देकर विकेट चटकाया है ।

  इसके बाद उन्होंने यह बयान दिया दिया है। अंतिम टेस्ट का पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद जडेजा ने कहा मेरे सबसे बड़ी चीज यही है कि मैं भारत के लिए खेल रहा हूं और अगर किसी दिन मैं अच्छा करता हूं तो मैं जल्द ही खेल के सभी प्रारुप से खेल सकूंगा। लेकिन मेरा लक्ष्य सिर्फ यही है कि मुझे मौका मिले और मैं इसका फायदा उठाकर अच्छा प्रदर्शन करूं।

Ravindra Jadeja

उन्होंने कहा जब आप सिर्फ एक ही फॉर्मेट में खेल रहे होते हो तो यह काफी मुश्किल होता है क्योंकि मैचों के बीच में काफी अंतर होता है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने के लिए आपका अनुभव और लय कम हो जाती है. इसलिए आपको खुद को प्रेरित करते रहना होता है।

जब भी आपको मौका मिलता है जैसे मुझे इस मैच में मिला है, तो अपनी काबिलियत के हिसाब से मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। इसके साथ ही उन्होंने जाहिर कर दिया है कि वह भारत के लिए ऑलराउंडर का स्थान सुनिश्ति करना चाहते हैं,

उन्होंने कहा जब भी मुझे भारत के लिए खेलने का मौका मिलता है तो मुझे बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों पहलूओं में अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा । मैं टीम पर विश्वस्त सदस्य बनना और ऑलराउंडर स्थान से भरना चाहता हूं क्योंकि मैंने बीते समय में भी ऐसा किया है यह मेरे लिए नया नहीं है यह सिर्फ समय की बात है ।

 

क्या रवींद्र जडेजा की भारतीय वनेड टीम में भी वापसी होनी चाहिए कमेंट बॉक्स में राय दें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here