मैच के दौरान 1.4वें ओवर में रन बचाने के लिए चीते की रफ़्तार से दौड़े रवींद्र जडेजा

भारत और इंग्लैंड के बीच जारी पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का अंतिम टेस्ट मैच 7 विकेट खोकर 198 रन रहा है। इंग्लैंड की ओर से पहले दिन एलिस्टर कुक ने सबसे ज्यादा 71 रन बनाए और जेनिंग्स के साथ 60 रन की साझेदारी निभाई। दूसरे विकेट के लिए कुक ने मोईन अली के साथ 73 रन की साझेदारी निभाई।

0
70

जयपुर( स्पोर्ट्स डेस्क) भारत और इंग्लैंड के बीच जारी पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का अंतिम टेस्ट मैच 7 विकेट खोकर 198 रन रहा है। इंग्लैंड की ओर से पहले दिन एलिस्टर कुक ने सबसे ज्यादा 71 रन बनाए और जेनिंग्स के साथ 60 रन की साझेदारी निभाई। दूसरे विकेट के लिए कुक ने मोईन अली के साथ 73 रन की साझेदारी निभाई।

बता दें की मोईन अली ने भी शानदार शतक जड़ा था। जो रूट बेयरस्टो बना और कैम कुर्रन खाता खोले पवेलियन लौट गए।वहीं बेन स्टोक्स 11 रन ही बना पाए। जोस बटलर और आदिल रशीद दोनों क्रीज पर मौजूद है वहीं मैच के 1.4 ओवर में रवींद्र जडेजा ने बचाने के लिए चीते की रफ़्तार से दौड़ लगाई थी ।

दरअसल मैच में इशांत शर्मा की गेंद पर कुक ने शानदार शॉट लगाया था कि गेंद बाउंड्री लाइन पर पहुंच जाएगी। दूसरी तरफ रवींद्र जडेजा चीते की तरह तेजी से गेंद पकड़ने के लिए भागे थे । गौरतलब है कि इंग्लैंड ने अंतिम टेस्ट मैच में टॉस जीता था,

और पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया था ।जिसके मैदान पर  इंग्लैंड की पारी उतरी। पहले भारतीय गेंदबाजों  की ओर शानदार खेल देखने  को मिला था ।  बता दें की  इस सीरीज में इंग्लैंड 3-1 के साथ आगे है,

और  इसके साथ ही वह सीरीज पर कब्जा कर चुकी  है । इस हिसाब से  इंग्लैंड के लिए  यह मैच इतना ज्यादा अहमियत नहीं रखता है पर  इंग्लैंड यह मैच जीतना ही चाहेगी ।

 

 क्या आपकी नजर रविंद्र जडेजा टीम इंडिया के बेहतरीन फील्डरों में से एक हैं कमेंट बॉक्स में राय दीजिए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here