1983 जैसा कमाल इंग्लैंड में करने के लिए तैयार हैं रवि शास्त्री

0
37

जयपुर (स्पोर्ट्स डेस्क) रवि शास्त्री कंधों पर आज भारतीय टीम की जिम्मेदारी है वह बतौर टीम के मुख्य कोच इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप में शिरकत करेंगे । हम सभी जानते हैं कि रवि शास्त्री 1983 में विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे उस वक्त रवि शास्त्री के लिए बतौर खिलाडी़ वह बडी़ उपलब्धि रही थी जब उनकी टीम ने पहली दफा ट्रॉफी जीती थी ।

लेकिन सवाल यह है कि क्या रवि शास्त्री 1983 जैसे सफलता इंग्लैंड फिर दोहरा सकते हैं  । रवि शास्त्री का टीम इंडिया के साथ कोचिंग का सफर 2007 में शुरु हुआ था आज वह टीम के हेड कोच हैं। बतौर खिलाडी़ भी रवि शास्त्री हिट रहे हैं , उन्होंने भारतीय टीम के लिए काफी कुछ किया ।

उन्होंने 80 टेस्ट मैच में खेले जिसमें 35.79 के औसत से 3830 रन बनाए ।वहीं 150 वनडे मुकाबलों में 29.04 की औसत से 3108 रन बनाए। उन्होंने टीम के लिए हर वो भूमिका निभाई है जो उन्हें दी गई ।1983 में ही भारत के पाकिस्तान दौरे पर पहले टेस्ट मैच में जब उन्हें ओपनिंग की जिम्मेदारी दी गई थी तो उन्होंने 128 रन बनाए थे और अपना दम दिखाया था।

रवि शास्त्री हमेशा ही चुनौतियां का सामना करने वाले शख्स रहे हैं ।और अब 2019 का विश्वकप भी रवि शास्त्री के लिए ऐसी एक चुनौती साबित होने वाला है। बता दें की विश्व कप के बाद वैसे भी बतौर कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल खत्म होने वाला है। पिछले कुछ सयम में टीम इंडिया के प्रदर्शन काफी ज्यादा सुधार आया है । यही नहीं भारतीय टीम वह रही है जिसने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की धरती पर जाकर खिताब तक जीते हैं ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here