केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले, डिजिटल स्ट्राइक कर चाइनीज Apps किए गए बैन

0

लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। लेकिन चीन की सेना को इससे दोगुना नुकसान हुआ है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत हर हाल में शांति चाहता है। लेकिन कोई बुरी नजर डालता है तो देश उसे करारा जवाब देता है। अगर हमारे देश ने 20 जवानों को खोया तो चीन में ये संख्या दोगुनी हैं। एलएसी पर मारे गए सैनिकों का चीन आंकड़ा जारी नहीं कर रहा है।

केंद्रीय मंत्री पश्चिम बंगाल में एक डिजीटल रैलीको संबोधित कर रहे थे। रविशंकर ने कहा कि इन दिनों दो C के स्वर सुनाई दे रहे हैं। इनमें से एक कोरोना और दूसरा चीन है। उन्होंने कहा कि आप सबको मालूम होगा कि उरी और पुलवामा का हमने कैसे बदला लिया था। जब हमारे देश के प्रधानमंत्री कहते हैं कि जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी तो इसका कुछ मतलब है।

रविशंकर प्रसाद ने सवाल किया है कि चीन एप्स पर प्रतिबंध को लेकर टीएमसी विरोध क्यों कर रही है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सरकार के इस कदम को चीन पर डिजिटल स्ट्राइक बताया है।

एलएसी पर जारी तनाव के बाद केंद्र सरकार ने फैसला लेते हुए चीन के एप पर प्रतिबंद लगा दिया है। केंद्र ने सुरक्षा और निजता का हवाला देते हुए चीनी ऐप टिकटॉक, वीचैट और शेयरइट सहित 59 चीनी ऐप्स को बैन किया है। इसके अलावा यूसी ब्राउजर, यूसी न्यूज और एमआई कम्युनिटी जैसे चर्चित ऐप शामिल हैं।

Read More….
Monsoon Updates: उत्तर भारत में 4 जुलाई से बदलेगा मौसम का मिजाज, तेज गर्मी से मिलेगी राहत
Hong Kong मामले पर चीन का विरोध तेज, UN में भारत ने हांगकांग पर चीन के बर्ताव पर जताई चिंता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here