राज्यसभा सांसद ने एलएंडटी पर लगाया आरोप, जानिए पूरा मामला !

0
42

कथित कॉर्पोरेट वित्तीय अनियमितताओं के एक अन्य उदाहरण में राज्यसभा के एक सासंद ने एलएंडटी समूह और उसकी अनुषंगी कंपनियों के खिलाफ मुंबई में गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई है। मुंबई एसएफआईओ ने राष्ट्रीय राजधानी में एसएफआईओ के निदेशक को एक पत्र लिखा है, जिसमें “इस घोटाले की राशि हजारों करोड़ रुपये आंकी गई है। घोटाले में धन शोधन, बेईमानी से धन निकालने, आयकर, बिक्री कर और सेवा कर में चोरी और वित्तीय विवरणों में गलत विवरण शामिल है।” पत्र में कहा गया है कि जांच के लिए यह एक उचित मामला है।

आईएएनएस के पास पत्र की एक प्रति मौजूद है। आरोपों को खारिज करते हुए एलएंडटी ने बताया, “हम मजबूती के साथ आरोपों को खारिज करते हैं, जो कि पूरी तरीके से बिना आधार लगाए गए हैं। एलएंडटी ने हमेशा से ही निगम नियंत्रण, वैधानिक अनुपालन और नियामक आवश्यकताओं के उच्च स्तर को बरकरार रखा है।”

सांसद कहकशां परवीन की शिकायत में कहा गया है कि एलएंडटी और उसकी अनुषंगियों को भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) द्वारा सामान्य चूककर्ता करार दिया गया है। इसमें कंपनी पर एलएंडटी सड़क परियोजनाओं के लिए बैंकों से करीब आठ हजार करोड़ रुपये के ऋण जुटाने का आरोप लगाया गया है। जिसका एनपीए (डूबा हुआ कर्ज) होने का गंभीर खतरा है।

शिकायत में कहा गया कि एलएंडटी चेन्नई टाडा लिमिटेड का ऋण खाता सितंबर 2015 के बाद से ही एनपीए में तब्दील हो चुका है और उसकी वसूली करना भी गंभीर खतरा है।

शिकायत में कहा गया कि अनुषंगियों की होल्डिंग कंपनी होने के नाते एलएंडटी को बैंकों का बकाया पैसा चुकाने के लिए आदेश दिया जाना चाहिए।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here