पंजाब, हिमाचल ने रोपवे परियोजना फिर शुरू की, जानिए इसके बारे में !

0
551

पंजाब और हिमाचल प्रदेश ने खालसा की जन्मस्थली श्री आनंदपुर साहिब को नैना देवी मंदिर से जोड़ने वाली एक रोपवे परियोजना को फिर से शुरू की है। पंजाब के पर्यटन और सांस्कृतिक मामलों के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने हिमाचल के अतिरिक्त मुख्य सचिव (संस्कृति और पर्यटन) राम सुभग सिंह से मुलाकात के बाद शुक्रवार को कहा कि इस परियोजना से न केवल दोनों राज्यों के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि हिंदू-सिख समुदाय के बीच मित्रता भी बढ़ेगी। सिद्धू और राम के बीच यह बैठक 2014 में आयोजित परियोजना को पुनर्जीवित करने के लिए हुई थी।

राम सुभग ने कहा कि इस परियोजना को हिमाचल सरकार द्वारा गुरुवार को हरी झंडी मिली थी। सिद्धू ने कहा कि 3.5 किलोमीटर वाली इस रोपवे परियोजना में कुल 200 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। उन्होंने कहा, “इसमें तीर्थयात्रियों की सुरक्षा को प्राथमिकता दी जाएगी और बड़ी कंपनियों की सेवाएं ली जाएंगी, ताकि इसमें कोई दुर्घटना न हो।”

खालसा पंत की स्थापना सिखों के 10वें गुरु, गुरु गोबिंद सिंह जी ने 13 अप्रैल, 1699 को आनंदपुर साहिब के गुरुद्वारा तख्त श्री केसगढ़ साहिब में की थी। नैना देवी का मंदिर हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में है और विभिन्न धर्मो के लाखों लोग यहां दर्शन के लिए आते हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here