बिहार में स्मृति ईरानी का भारी विरोध, ‘चेहरे’ पर कालिख पोत दिया

0
180

जयपुर। बिहार के गोपालगंज जिले में स्वर्ण सेना कार्यकर्ताओं ने पिछले गुरुवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को काले झंडे दिखाए थे, जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और उसके युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं में स्वर्ण सेना के बीच झगडा भी हो गया था.जिला पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, “कुछ युवाओं ने मंत्री पर काले झंडे उड़ाए और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ नारे लगाए. भाजपा समर्थकों ने एक विरोध करने वाले युवा को पकड़ा लिया तह लकिन पुलिस ने उसे बचा लिया.”

बताया जा रहा है की ईरानी पार्टी समारोह में भाग लेने के लिए गोपालगंज गई थी. उनके आगमन से पहले, स्वर्ण सेना कार्यकर्ताओं ने दीवारों पर उनके पोस्टर फाड़ दिए और उनके चहरे पर काले रंग लगा दिया.

आपको बता दे की पिछले 10 दिनों में स्वर्ण सेना कार्यकर्ताओं  केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और दो पार्टी सांसदों सहित बीजेपी नेताओं – बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय और भोजपुरी अभिनेता ने राजनेता मनोज तिवारी को काले झंडे दिखाए बिहार में विभिन्न जगह पर दिखाए है.

सर्वोच्च जाति के संगठन के कार्यकर्ता अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों (अत्याचार रोकथाम) अधिनियम के तहत तत्काल गिरफ्तारी के प्रावधान की बहाली के खिलाफ विरोध कर रहे थे, जिसे 20 मार्च को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद हटा दिया गया था.

प्रदर्शनकारियों ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ नारे लगाए और कहा कि 2014 में भाजपा को उनके भारी समर्थन के कारण सत्ता में वोट दिया गया था, लेकिन पार्टी ऊपरी जातियों के हितों के खिलाफ काम नहीं कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here