पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के विरोध में,संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के बाहर जबर्दस्त प्रदर्शन

0

जयपुर।पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ न्यूयॉर्क में सामाजिक कार्यकर्ताओं ने संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के बाहर,पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ प्रदर्शन कर पाकिस्तान सरकार की पोल खोल कर रख दी है।पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र को संबोधित करते हुए विश्व के इस सबसे बड़े मंच का इस्तेमाल एक बार फिर कश्मीर राग को छेड़ने में किया है।

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने एक ओर तो मुस्लिमों के खिलाफ हो रहे अत्‍याचारों की बात कही लेकिन अपने मुल्‍क में अल्‍पसंख्‍यकों पर हो रहे उत्‍पीड़नों को शायद पीएम इमरान खान भूल गए है।

पाकिस्तान सरकार के खिलाफ विरोध करते हुए मानवाधिकार कार्यकर्ता गुलालेई स्‍माइल ने कहा कि हमारी मांग है कि पाकिस्‍तान की सेना अल्पसंख्यक लोगों के खिलाफ उत्‍पीड़नों को तुरंत बंद करे और उन लोगों को रिहा करे जिसे पाकिस्तानी सेना ने उत्‍पीड़न गृहों में कैद करके रखा हुआ है।

दूसरी तरफ अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में एक विमान ने स्टैचू आॅफ लिबर्टी के पास उड़ान भरते हुए बलूचिस्तान में किये जा रहे मानवाधिकारों के उल्लंघन का संदेश देते हुए उड़ान भरी है। स्टैच्यू आॅफ लिबर्टी के चारों ओर उड़ान भरने वाले इस विमान पर लिखा संदेश यह है कि बलूचिस्तान में मानवाधिकारों की रक्षा के लिए संयुक्त राष्ट्र लोगों की मदद करने के लिए आगे आये।

न्‍यूयॉर्क में सामाजिक मानवाधिकार कार्यकर्ता शम्स बलोच ने आरोप लगाया कि पाकिस्‍तान ने सैन्य शक्ति का इस्तेमाल करके बलूचिस्तान पर जबरन कब्‍जा किया हुआ है। बलूच नेता शम्स बलोच ने पाकिस्तान के खिलाफ विरोध करते हुए कहा है कि, पाकिस्तान न केवल भारत व अफगानिस्तान और बलूचिस्तान के लिए बल्कि इस पूरी दुनिया और मानवता के लिए वायरस बन गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here