लखनऊ में राहुल, सिंधिया के साथ प्रियंका का हुआ भव्य स्वागत (राउंडअप)

0
183

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का यहां सोमवार को हजारों लोगों ने उनके रोडशो के दौरान स्वागत किया। प्रियंका के साथ उनके भाई व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां खुली बस में रोड शो किया। आगामी लोकसभा चुनावों से पहले पार्टी की पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव बनाए जाने के बाद यह उनका लखनऊ का पहला दौरा था।

यहां सुरक्षाबलों के लिए उत्साहित भीड़ को संभालना काफी मुश्किल काम रहा। काफिले में अन्य नेताओं के अलावा प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर, पश्चिमी उत्तरप्रदेश के प्रभारी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल थे। लोगों ने प्रियंका गांधी का जमकर उत्साह बढ़ाया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारे लगाए।

बर्लिगटन चौराहे के पास एक जगह प्रियंका गांधी, राहुल गांधी, सिंधिया और अन्य नेताओं को खतरनाक तरीके से लटक रहे बिजली के तार से बचने के लिए अपना सिर नीचे झुकाना पड़ा, जिसके बाद उन्हें बस से थोड़ी देर के लिए उतारकर कार में बिठा दिया गया।

समर्थक ‘आ गई बदलाव की आंधी, राहुल संग प्रियंका गांधी’ का नारा लगा रहे थे, जबकि कुछ समर्थक प्रियंका की तस्वीर वाली टोपी और टी-शर्ट पहने हुए थे।

प्रियंका लगातार लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन कर रही थीं। वहीं कई समर्थक उनकी तरफ माला उछाल रहे थे। सैकड़ों कार्यकर्ता अपने हाथों में पार्टी का झंडा लिए हुए थे।

चौधरी चरण सिंह हवाईअड्डे से मॉल एवेन्यू स्थित कांग्रेस कार्यालय तक लगभग 25 किलोमीटर लंबे मार्ग पर प्रियंका गांधी के पोस्टर पटे हुए थे। कई पोस्टरों में उन्हें देवी दुर्गा के रूप में दिखाया गया था। कुछ पोस्टरों में उनकी तुलना देवी दुर्गा से की गई थी।

कांग्रेस कार्यालय हजारों किलोग्राम ताजे गेंदे और अन्य फूलों से सजा हुआ था।

सोमवार को ट्विटर पर पदार्पण करने वाली प्रियंका ने एक दिन पहले कहा था कि वे एक नया भविष्य, नई राजनीति का निर्माण करना चाहती हैं।

उन्होंने कहा था, “मुझे उम्मीद है कि हम एक नए प्रकार की राजनीति शुरू करेंगे जिसमें आप सभी साझेदार होगे। आओ, मेरे साथ नया भविष्य, नई राजनीति का निर्माण करें।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleआयकर विभाग ने 18,000 करोड़ के जाली बिलों का किया पर्दाफाश
Next articleएनसीएएलटी ने आईएलएंडएफएस समूह की 33 कंपनियों को कर्ज देनदारियां चुकाने को कहा
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here