स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले राष्ट्रपति ने चीन की लगाई फटकार

0

देश के 74 वे स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले देश के मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार की शाम को देश को संबोधित किया। देश को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने कहा की हर साल की तरह इस साल स्वतंत्रता दिवस उतना धूम-धाम से नहीं मनाया जायेगा। कोरोना महामारी को देखते हुए यह अहम फैसला लिया गया है। इतना ही नहीं उन्होंने इसी संबोधन में चीन को भी चेतावनी भी दी। उन्होंने कहा की जो भी अशांति उत्पन्न करेगा,उसे माकूल जवाब दिया
जाएगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने संबोधन में बीना चीन का नाम लिए चीन के साथ हुई सीमा विवाद का ज़िक्र करते हुए चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि आज इस कोरोना महामारी से पूरे विश्व को एक जुट होकर इस लड़ाई से लड़ना चाहिए वहीं दूसरी ओर हमारे पड़ोसी विस्तारवादी गतिविधियों को अंजाम देने में लगा हुआ है। इन गतिविधियों को रोकने के लिए सीमा पर हमारे जवान शहीद हो गए।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए लिखा की,
”आज जब विश्व समुदाय के समक्ष आई सबसे बड़ी चुनौती से एकजुट होकर संघर्ष करने की आवश्यकता है, तब हमारे पड़ोसी ने अपनी विस्तारवादी गतिविधियों को चालाकी से अंजाम देने का दुस्साहस किया।

सीमाओं की रक्षा करते हुए, हमारे बहादुर जवानों ने अपने प्राण न्योछावर कर दिए।

भारत माता के वे सपूत, राष्ट्र गौरव के लिए ही जिए और उसी के लिए मर मिटे।

पूरा देश गलवान घाटी के बलिदानियों को नमन करता है।

हर भारतवासी के हृदय में उनके परिवार के सदस्यों के प्रति कृतज्ञता का भाव है।”

इतना ही नहीं राष्ट्रपति कोविंद ने कोरोना को लेकर भी चिंता जताई और सभी को सावधानी बरतने के लिए कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here