गर्भवती महिलाएं भूलकर भी न करें नजरअंदाज ज्योतिष के इन उपायों को, नहीं तो होने वाले बच्चो को होगा नुकसान

0
41

जयपुर।   किसी भी स्त्री के लिए मां बनने का एहसास अलग ही एहसास होता है, इस खुशी को बह किसी को बता नहीं सकती क्योंकि इसके लिए शब्द कम पड़ जात हैं, इस समय के ऐहसास को शब्दों में पिरोना थोड़ा मुश्लिक हैं।  जब कोई महिला गर्भवती होती है तो उसके लिए गर्भावस्था का एक एक पल बहुत ही खास होता है।  गर्भवती महिला को उस समय के हर एक पल का बेसब्री से इंतजार रहता है।

इसके साथ ही गर्भवती स्त्री को मन ही मन ये चाह रहती है कि उसकी होने वाली संतान गुणी, संस्कारी, बलवान, आरोग्यवान और दीर्घायु हो, इन सब को लेकर वह मन में आशंकित भी रहती है। ऐसे में आज हम इस लेख में कुछ ऐसे ज्योतिष उपायों को बता रहें हैं जो गर्भवस्था के दौरान किये जाते जाने से होने वाली संतान गुणी और संस्कारी होती है।

 

  • गर्भवती महिला को अपने कमरे में भगवान कृष्ण के बाल रुप की फोटो या मूर्ति रखनी चाहिए। सुबह उठते है पहली नजर उस पर पड़ें उसे ऐसे स्थान पर रखें। गर्भवस्था के दौरान कमरे में बाल गोपाल की फोटो को देखने से गर्भवती महिला का मन प्रसन्न होता है जिससे होने वाली संतान सुंदर होती है।
  • गर्भावस्था के दौरान बच्चे को नकारात्मक शक्तियों से बचाने के लिए या दूर रखने के लिए कमरे में मोर पंख रखें मोरपंख के होने से होने वाले बच्चे पर नकारात्मक शक्तियों से बचाया जा सकता है।

  • गर्भवस्था के दौरान पूरे घर पर पीले चावलों का छिड़काव करें ऐसा करने से बच्चें को नकारात्मक शक्तियों के प्रभाव से दूर रखा जा सकता है। ज्योतिष के अनुसार पीले चावल मंगल सूचक माने जाते है। इसके साथ ही तांबे या लोहे की चीजें को अपने पास रखें।

  • गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को कमरे में सफेद और हल्के रंगों का इस्तेमाल करें यह रंग सुख-समृद्धि  के साथ साथ मन की शांति भी देता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here