PM मोदी आज लॉन्च करेंगे 1 लाख करोड़ की वित्तपोषण सुविधा, दूर होगी किसानों की समस्या

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 अगस्त को सुबह 11 बजे कृषि इंफ्रास्ट्रक्टर फंड के तहत 1 लाख करोड़ रुपये के वित्त पोषण सेवा को लॉन्च करेंगे। जुलाई में केंद्र सरकार ने रियायती ऋण का विस्तार करने के लिए 1 लाख करोड़ के कोष के साथ कृषि इंन्फ्रास्ट्रचर फंड की स्थापना को मंजूरी दी थी। कोरोना महामारी से निपटने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारण द्वारा पेश किए गए 20 लाख करोड़ रुपये के प्रोत्साहन पैकेज का कृषि इंन्फ्रास्ट्रचर फंड हिस्सा है।

वित्त मंत्री ने आर्थिक मेगा पैकेज का ऐलान करते हुए कहा था कि इस कोष का उपयोग शीत भंडार गृह और कटाई के प्रबंधन ढ़ांचे पर किया जाना है। क्या है कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड- इस फंड की अवधि 10 साल यानी साल 2029 तक है। इसके जरिए ग्रामीण इलाकों में कृषि क्षेत्र से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर को तैयार करने में मदद मिल सकेगी। इसका उद्देशय ग्रामीण इलाकों में नौकरियों और निजी निवेश को बढ़ा देना है। इसके तहत बैंकों और वित्तीय संस्थानों द्वारा प्राथमिक कृषि श्रण समितियों, किसान उत्पादक संगठनों, किसान समूहों, स्टार्टअप और एग्री टेक खिलाड़ियों को ऋण के तौर पर 1 लाख करोड़ रुपये दिए जाएंगे।

चार साल में ऋण को वितरित किया जाएगा। चालू वर्ष में 10 हजार करोड़ रुपये और अगले तीन वित्तीय वर्षों में हर साल में 30 हजार करोड़ रुपये के ऋण का वितरण किया जाना है। मंत्रालय ने कहा कि कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड के तहत रोजगार के अवसर खुल सकेंगे। ऋण के लिए आवेदन करने के लिए सभी योग्य संस्थाओं को सक्षम कर सकेगा। कृषि से संबंधित गतिविधियों के लिए औपचारिक ऋण सुविधा से ग्रामीण इलाकों में रोजगार के नए अवसर खुल सकेंगे।

Read More…
Kerala Plane Crash: केरल विमान हादसे के हो सकते हैं ये तीन बड़े कारण
Coronavirus Updates: कोरोना संक्रमितों की संख्या 21 लाख के करीब, 24 घंटे में 61 हजार नए केस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here