बिहार के दिमागी बुखार को पीएम मोदी ने बताया ‘नाकामी’, मॉब लिंचिंग पर कहा- राजनीति न हो

0
68
New Delhi: Prime Minister Narendra Modi speaks in the Lok Sabha, at the parliament in New Delhi on Wednesday. PTI Photo / TV Grab (PTI2_7_2018_000095B)

जयपुर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा के बाद अनु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को लोकसभा में अपनी बात रखी तो बुधवार को उन्होंने राज्यसभा में संबोधन दिया आपको बता दें कि इस दौरान उन्होंने चुनाव के नतीजों से लेकर ईवीएम आधार जीएसटी किसान मीडिया और कई अन्य मुद्दों पर विपक्ष को घेरा और विपक्ष को अपनी हार स्वीकार करने के लिए कहा.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में पहली बार बिहार में दिमागी बुखार की कहर और झारखंड में हुई मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर भी अपनी बात रखी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ऐसे गंभीर मुद्दों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.

आपको बता दें कि बिहार में दिमागी बुखार यानी एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम से करीब 150 से भी ज्यादा बच्चों की मौत हो गई है और इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चमकी बुखार से मौतें हमारे लिए शर्मिंदगी की बात है और यह हमारी नाकामी को दिखाता है. वही आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में कहा कि पिछले दिनों बिहार के चमकी बुखार की चर्चा हुई है आधुनिक युग में ऐसी स्थिति हम सभी के लिए दुख और शर्मिंदगी की बात है.

वहीं झारखंड में हुई मॉब लिंचिंग की घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि युवक की हत्या को दुख हमें भी है हिंसा की घटनाएं कहीं भी हो सही नहीं है वही मॉब लिंचिंग के लिए पूरे झारखंड को जिम्मेदार ठहराना सही बात नहीं.

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ऐसे मुद्दों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए दूसरी कोई भी हो उनके लिए कानून व्यवस्था है उसे सजा मिलनी चाहिए झारखंड में कुछ लोग खराब हैं तो कहीं अच्छे लोग भी हैं किसी भी राज्य को मॉब लिंचिंग की फैक्ट्री कहना सही नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here