पीएम मोदी ने देश के नाम लिखा खत, कोरोना संकट में मजदूरों की परेशानी पर जताया दुख

0

इन दिनों देश कोरोना के संकट से गुजर रहा है। इस बीच मोदी सरकार ने 29 मई को अपने दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा कर लिया है। इस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को खत लिखा है। इसके जरिए पीएम ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देश के लोगों की एकजुटता की जमकर तारीफ की।

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले एक साल में राष्ट्र ने ऐतिहासिक निर्णय लिए और देश ने तेजी  से प्रगति की है। पीएम मोदी ने इस खत में प्रवासी मजदूरों, श्रमिकों और अन्य लोगों के प्रति संवेदना प्रकट की और कहा कि कोरोना संकट के बीच उन्हें जबरदस्त पीड़ा झेलनी पड़ी। उन्होंने कहा कि भारत आर्थिक पुनरुत्थान में एक मिसाल कायम करेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खत में लिखा है कि भारतीयों की सामूहिक ताकत और सामर्थ्य किसी भी अन्य शक्तिशाली देशों के मुकाबले काफी आगे हैं। कोरोना संकटकाल में हर किसी को परेशानियों का सामना करना पड़ा है। प्रवासी मजदूरों, उद्योगों में काम करने वाले श्रमिकों और कामगारों ने कोरोना संकट के बीच कई कष्ट झेले हैं। इन संकटों के बावजूद वो कोरोना की जंग में अपना पूरा सहयोग दे रहे हैं।

पीएम प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार के कामकाज का पूरा ब्योरा जनता के सामने पेश किया है। उन्होंने कहा कि बीते एक साल में हमारी सरकार ने जिस तरह से कई ऐतिहासिक फैसले लिए हैं उसे खत के जरिए बताना मुश्किल है। उन्होंने कहा कि एक साल में केंद्र सरकार ने पूरी ताकत के साथ अपने फैसलों को लागू किया है।

Read More….
कोरोना संकट: लॉकडाउन से बंद हो सकती हैं 7 लाख से ज्यादा छोटी दुकानें
पीएम मोदी ने देश के नाम लिखा खत, कोरोना संकट में मजदूरों की परेशानी पर जताया दुख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here