पीएम मोदी ने दिया नया नारा ‘अजेय भारत अटल भाजपा’

0
83

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए एक नया नारा दिया ‘अजेय भारत अटल भाजपा’। मोदी ने कहा कि कांग्रेस झूठ पर चुनाव लड़ती है और विपक्ष के पास न नेता है न नीति है और न रणनीति है। विपक्ष पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा, “जो लोग एक साथ चल नहीं सकते, एक दूसरे को देख नहीं सकते, आज वे गले लगने को मजबूर हैं। हमारी सफलता यही है कि हमारे काम ने इन लोगों को साथ आने पर मजबूर कर दिया।”

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक की समाप्ति के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मीडिया को प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन की जानकारी दी।

मोदी ने कहा, “कोई भी पार्टी कांग्रेस के नेतृत्व को स्वीकार करने को तैयार नहीं है। छोटी से छोटी पार्टी भी कांग्रेस का नेतृत्व नहीं चाहती है। कांग्रेस के अंदर भी यही स्थिति है।”

महागठबंधन पर मोदी ने कहा, “2019 में महागठबंधन को लेकर भाजपा को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। महागठबंधन की न विचारधारा है और न ही उनके पास नेतृत्व है और नीयत भ्रष्ट है। हमारा काम हम जनता तक पहुंचाएंगे।”

उन्होंने कहा कि वे 2019 में किसी भी तरह की चुनौती नहीं देखते। लोकतंत्र में विपक्ष का होना जरूरी है, उन्हें प्रश्न पूछने चाहिए, लेकिन जो सरकार चलाने में असफल रहे, वे विपक्ष की भूमिका में भी असफल रहे।

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया, जिसमें कहा गया है कि 2022 तक देश से जातिवाद, संप्रदायवाद, आतंकवाद और नक्सलवाद खत्म होगा।

प्रस्ताव के मुताबिक, केंद्र सरकार भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रही है और इसकी वजह से उन्हें देश छोड़कर भागना पड़ रहा है।

भाजपा के प्रस्ताव के मुताबिक, कार्यकारिणी में एनआरसी के मुद्दे पर भी चर्चा हुई, जिसमें कहा गया कि घुसपैठियों के लिए देश में कोई जगह नहीं है। अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के सिख, बौद्ध, ईसाई, हिंदू शरणार्थी अगर देश में आते हैं तो उनकी मदद की जाएगी।

प्रकाश जावड़ेकर ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राजनाथ सिंह ने भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव रखा, जिसे कार्यसमिति ने पारित कर दिया। इस प्रस्ताव में विश्वास जताया गया कि न्यू इंडिया का सपना पूरा होकर रहेगा।

बैठक में कहा गया कि 2014 से भाजपा ने 15 राज्यों में चुनाव जीते हैं और 20 राज्यों में सरकार में है। विपक्ष 10 राज्यों में है और कांग्रेस सिर्फ तीन राज्यों में सिमट कर रह गई है, इसलिए सत्ता पाने के लिए विपक्ष परेशान है और महागठबंधन जैसा विकल्प ढूंढ़ रहा है। विपक्ष के पास कोई नेता नहीं है, इसीलिए उसका एक मात्र लक्ष्य ‘मोदी रोको’ है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here