ऐसी जगहं जहां पिता मनाता है अपनी बेटी के साथ सुहागरात, कुछ ऐसी है वजह

0
102

जयपुर, अलग अलग देशों में अलग अलग तरही की परंपराए निभाई जाती है कुछ परंपराए ऐसी होती है जिनके नाम पर महिलाओं के साथ घिनौना काम किया जाता है। आज आपको एक ऐसे अनोखी परंपरा के बारे में बताएंगे, जिसके बारे में सुनकर आपका दिमाग खराब हो जाएगा। यहां पर खुद पिता ही अपनी बेटी के साथ सुहागरात मानाता है। शायद ये बात आसानी से आपके गले नहीं ऊतर रही हों पर यह एकदम सच है।Related image

एक बेटी ही अपनी मां की सौतन बनती है। दोस्तों यह परंपरा बांग्लादेश के मंडी जनजाति में प्रचलित है।इस प्रथा के अनुसार एक बेटी को अपने पिता का ही बिस्तर गर्म करना पड़ता है। इस परंपरा को लेकर जानकारी की गई तो सामने आया कि यह एक घटना से जुई हुई परंपरा है। मंडी जनजाति में एक ओरोला डालबोट नाम की लड़की रहती थी जिसकी उम्र 30 साल थी। ओरोला डालबोट जब छोटी थी तभी उसके पिता का निधन हो गया था। पिता के निधन के बाद ओरोला डालबोट की मां ने दूसरी शादी कर ली थी।Image result for पिता करता है बेटी के साथ शादी

जब ओरोला डालबोट बड़ी हुई तो उसे पता चला कि उसका दूसरा पिता नॉटेन ही उसका दूसरा पति हैं। क्योंकि ओरोला डालबोट जब तीन साल की थी उसकी मां ने उसके पिता से उसकी शादी करवा दी थी। जिसके बाद यह घटना परंपरा बन गई। जिसके अनुसार यहां पर अगर किसी के बेटी पैदा होती है तो पैदा होते ही उसके पिता से उसकी शादी करवा दी जाती है। इतना ही नहीं अगर किसी महिला के पति की कम उम्र मे मौत हो जाती है तो उस महिला की शादी परिवार के किसी सदस्य से करवा दी जाती है।Image result for पिता करता है बेटी के साथ शादी

इस समुदाय के लोगों ने बताया कि नरूला के साथ भी ऐसा ही हुआ था। क्योंकि उसकी मां ने कम उम्र के युवक से शादी की थी। जिसकी वजह से उसकी बेटी की शादी भी उसी से करवा दी गई थी। इस समुदाय के लोगों ने बाताया कि इस परंपरा के तहत लड़की को समझदार होते होते पिता ही पत्नी की तरह व्यवाहर करने लगता है जिसकी वजह से इस समुदाय में आज तक बलात्कार जैसे कोई केस सामने नहीं आए है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here