इस शहर में दो महीने तक अंधेरे में जिंदगी गुजारते हैं लोग, वजह जानकर थर-थर कांपने लगेंगे आप

0
110

जयपुर, दुनिया के हर देश मे अलग अलग समय पर दिन रात होते हैं। जहां की दिन चर्या भी अलग अलग होती है। लेकिन दोस्तों विश्व मे एक ऐसा शहर भी है जो करीब दो महिनें तक एकदम अधेरे मे रहता है। सभी लोगो की मजबूरी हो जाती है  जिसके चलते वह दो महिनों तक अंधेरे मे जिंदगी काटते हैं। साथ ही कहा जाता है कि इस अंधेरे की वजह भी बहुत खरनाक होती है। जिसके नाम से लोग कांपने लगते हैं।  

दरअसल, रूस के साइबेरिया स्थित नोरिल्स्क दुनिया का ऐसा शहर है जहां दो महीने की रात होती है। इन 60 दिनो मे एक दिन भी उजाला नहीं होता है। साथ ही इस शहर को विश्व का सबसे ठंडा जहर माना जाता है। ठंड के दिनों में यहां का न्यूनतम तापमान -61 डिग्री सेल्सियस तक चला जाता है। अगर यहां के औसतन तापमान की बात करे तो हमेशा तापमान -10 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

बता दें कि नोरिल्स्क में पड़ने वाली जबरदस्त ठंड का अंदाजा कोई भी इस बात से लगा सकता है कि यहां साल के 9 महीने तक बर्फ जमी रहती है। साथ ही लोगों को हर तीसरे दिन बर्फिले तूफान का सामना भी करना पड़ता है। बता दें कि यहां पर दिसंबर और जनवरी में सूरज के दर्शन तक नहीं होते। लगातार बर्फबारी होनें की वजह से यहां पर दो महिनों तक उजाला नहीं होता है।  बता दें कि ये शहर रूस की राजधानी मॉस्को से करीब 2900 किलोमीटर दूरी पर स्थित है।

चौंकाने वाली बात तो यह है कि यहां पर पहुचंने के लिए किसी सड़क से नहीं बल्कि हवाई जहाज और नाव का सहारा लेना पड़ता है. .जानकारी के लिए बता दें कि इस शहर को सबसे अमीर देश कहा जाता है। क्योंकि यहा पर बडे पैमाने में प्लैटिनम, पैलेडियम और निकल धातु का भंडार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here