Paush amavasya: पौष अमावस्या पर ऐसे करें पूजा अर्चना, मिलेगा लाभ

0

हिंदू धर्म पंचांग के मुताबिक पौष महीने के कृष्ण पक्ष की आखिरी तिथि को पौष अमावस्या कहा जाता है शास्त्र अनुसार अमावस्या तिथि बहुत ही खास होती हैं मान्यता है कि इस दिन दान स्नान विशेष होता हैं ज्योतिष अनुसार ये लोक मान्यता है कि इस दिन धार्मिक कार्य, स्नान, दान, पूजा पाठ और मंत्र जाप करना शुभ होता हैं तो आज हम आपको पौष अमावस्या का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि बता रहे हैं तो आइए जानते हैं।

जानिए शुभ मुहूर्त—
पौष अमावस्या का शुभ मुहूर्त आज 13 जनवरी 2021 दिन बुधवार को हैं अमावस्या तिथि का प्रारंभ 12 जनवरी 2021, दोपहर 12:22 बजे अमावस्या तिथि समाप्त 13 जनवरी 2021, 10:29 बजे अमावस्या।

जानिए पूजन की पूरी विधि—
अमावस्या ति​थि पर पितरों को प्रसन्न करने के लिए श्राद्ध कर्म, स्नान, दान पुण्य और​ पितृ तर्पण करना शुभ फलकारी माना जाता हैं अमावस्या पर सुबह स्नान के बाद सूर्य देवता को शुद्ध जल में लाल पुष्प और लाल चंदन डालकर जल दिया जाता हैं सच्चे मन से ईश्वर का ध्यान करें और अपनी कामना मांगे। इसके बाद पितरों के निमित्त तर्पण करें। इस दिन आप चाहें तो पितरों की शांति के लिए व्रत भी कर सकते हैं शांत मन के साथ अपने पूर्वजों को नमन करें और उन्हें इस जीवन के लिए धन्यवाद दें।

अमावस्या तिथि पर पीपल के पेड़ और तुलसी के पौधे को जल देकर उनके समक्ष दीपक जलाएं और परिक्रमा करें। शांत मन के साथ ईश्वर को नमन करें। अमावस्या के दिन पितरों के नाम से दान पुण्य भी करना जरूरी माना जाता हैं इस तरह अमावस्या पर की गई पूजा से पितरों का आशीर्वाद प्राप्त होता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here