बिहार के विकास के लिए पप्पू यादव का प्रशांत किशोर को साथ आने का निमंत्रण

0

जन अधिकार पार्टी (जाप) के प्रमुख और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को बिहार के विकास के लिए साथ आने का बुधवार को निमंत्रण दिया और कहा कि जनता अब पक्ष और विपक्ष दोनों से उब चुकी है और एक नया गठबंधन चाहती है। उन्होंने कहा कि “हम एक मजबूत संकल्प लेकर प्रशांत किशोर, पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, भाकपा नेता कन्हैया कुमार और वाम दलों के साथ एक नया मोर्चा बनाएंगे और राज्य को विकास के पथ पर ले जाएंगे।”

पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में पप्पू यादव ने कहा कि नीति आयोग के सतत विकास सूचकांक में बिहार नीचे से टॉप है।

उन्होंने कहा, “मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास विकास के लिए कोई मॉडल नहीं है। मेरे पास बिहार के विकास के लिए अगले तीन साल का ब्लू प्रिंट तैयार है। अगर प्रशांत किशोर बिहार के विकास में सहयोग देना चाहते हैं तो उनका स्वागत है। हम सत्ता में आने के तीन साल के अन्दर राज्य के युवाओं को रोजगार देंगे और शिक्षा और स्वास्थ्य को दुरुस्त करेंगे। किसी बिहारी को बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।”

पप्पू यादव ने राजद के 15 सालों के शासन पर सवाल उठाते हुए कहा कि 15 सालों में राजद ने राज्य को पिछड़ेपन के रास्ते पर धकेल दिया। तेजस्वी यादव के मुख्यमंत्री चेहरे के सवाल पर उन्होंने कहा कि तेजस्वी अपने पिता के नाम पर राजनीति में आए हैं, उन्होंने कोई संघर्ष नहीं किया है।

जाप अध्यक्ष ने केंद्र सरकार को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि “भाजपा सीएए, एनआरसी और एनपीआर के द्वारा देश को बांटने की कोशिश कर रही है। हमने इन सभी मुद्दों को लेकर 23 फरवरी को भारत बंद बुलाया है, जिसमें भीम आर्मी भी समर्थन करेगी।”

इस संवाददाता सम्मेलन में पार्टी के प्रधान महासचिव एजाज अहमद, महासचिव प्रेमचंद सिंह, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ अध्यक्ष अकबर अली, युवा परिषद के राजू दानवीर, पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष मनीष कुमार यादव सहित अन्य नेता उपस्थित थे।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleपहली फिल्म फ्लॉप होने के बाद पापा सनी ने कसी कमर, करण देओल की अगली फिल्म के लिए खास तैयारी
Next articleआईएसएल-6 : विजयी विदाई चाहेगी हैदराबाद एफसी (प्रीव्यू)
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here