पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पीओके में जलसा,कश्मीर पर पॉलिसी स्टेटमेंट देगे

0
99

जयपुर।जम्मू—कश्मीर से भारत सरकार के द्वारा अनुच्छेद—370 को हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पीओके में आज तीसरा दौरा है। प्रधानमंत्री इमरान खान आज पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद में सार्वजनिक संबोधन के दौरान कश्मीर को लेकर एक ‘पॉलिसी स्टेटमेंट’देने वाले है।

हाल ही में अभी हुई एक साप्ताहिक प्रेस कांफ्रेन्स के दौरान पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि पाकिस्तान किसी भी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता के लिए तैयार है और इस मामले की वैधता अंतरराष्ट्रीय कानून पर आधारित होगी।मोहम्मद फैजल ने कहा है कि मध्यस्थता की पेशकश कश्मीर पर मौजूद है

लेकिन भारत इसके लिए तैयार नही है लेकिन पाकिस्तान इसके लिए तैयार है।पाकिस्तान के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान मुजफ्फराबाद में अपने संबोधन में ‘कश्मीर पर पॉलिसी स्टेटमेंट’ देने वाले है।

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने बताया है कि कश्मीर संघर्ष एक प्रक्रिया है, घटनाक्रम नही है। हमने कुछ कदम उठाए है और इसके बाद कुछ और भी कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के प्रमुख का बयान कश्मीर को लेकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय की बढ़ रही चिंता को दिखाता है।संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार की यह टिप्पणी ऐसे समय में की गई है जब भारत और पाकिस्तान के बीच मंगलवार को यूएनएचआरसी में हुई तीखी बहस में देखने को

मिला है। भारत का कहना था कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को खत्म करना भारत का एक ‘संप्रभु फैसला’ है और आंतरिक मामला है।दूसरी तरफ आज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पाक अधिकृत कश्मीर इसे लेकर एक जलसा होने वाला है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here