कश्मीर मसले पर एक बार फिर हारा पाकिस्तान,संयुक्त राष्ट्र मानवधिकार परिषद ने समर्थन देने से किया इंकार

0
112

जयपुर।भारत सरकार के द्वारा जम्मू—कश्मीर से अनुच्छेद—370 को हटाए जाने के बाद पाकिस्तान इस कोशिश में लगा हुआ है कि इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बना दिया जाए,परंतु पाकिस्तान की यह कोशिश नाकाम ही रही है।हाल ही में पाकिस्तान कश्मीर के मुद्दे को लेकर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में अपील दायर की थी।लेकिन संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत के सामने पाकिस्तान को कूटनीतिक हार का सामना करना पड़ा है।

पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में कश्मीर पर प्रस्ताव पेश करना चाह रहा था लेकिन आखिरी दिन और अंतिम वक्त तक पाकिस्तान इसके लिए जरूरी देशों का समर्थन नही जुटा पाया है।

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के अधिकतर सदस्य देशों ने कश्मीर पर प्रस्ताव लाने के लिए पाकिस्तान का समर्थन करने से इनकार कर दिया है।संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में पेश होने वाले किसी भी प्रस्ताव के लिए इसके 47 सदस्य देशों में से 16 देशों का समर्थन जरूरी है

पंरतु पाकिस्तान इसके सदस्य 16 देशों का समर्थन भी नही जुटा पाया है।इस समय जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का 42वां सत्र सत्र चल रहा है। पाकिस्तान इस सत्र में कश्मीर पर प्रस्ताव पेश कर इसे अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाना चाह रहा था लेकिन उसके यह मंसूबे पूरे नही हो पाये है।

कश्मीर मुद्दे को लेकर पाकिस्तान को 24 घंटे के अंदर यह दूसरा बड़ा झटका लगा है।क्योंकि इससे पहले पाकिस्तान को यूरोपीय यूनियन की संसद ने जम्मू-कश्मीर मसले पर बिना पाकिस्तान का नाम लिए कहा था कि,लोकतांत्रिक देश भारत में चांद से आतंकी नहीं आते है।यूरोपीय यूनियन ने कहा था कि पाक इस क्षेत्र में शांति बनाए रखे और कश्मीर मसले को भारत से बैठकर बातचीत से सुलझाने की कोशिश करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here