‘पेसर उमेश यादव ‘दुर्भाग्यशाली’, केएल राहुल के साथ बने रहने की जरूरत’

केएल राहुल के बारे में बात करते हुए कहा है कि वे एक लंबी रेस के घोडे के तौर पर देखा जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि एक कोच के रूप में मुझे लगता है कि राहुल असाधारण खिलाडी है। जिसमें प्रतिभा है। जिसमें प्रतिभा है। जिसके साथ बरकरार रहने की जरूरत है।

0
35

जयपुर. टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच भरत अरूण ने खिलाडियों को लेकर एक बडा बयान दिया है। भरत अरूण ने सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल को असाधारण प्रतिभा बताया है। टीम के गेंदबाज विभाग के कोच भरत अरूण ने कहा है कि केएल राहुल के साथ बरकरार रहने की जरूरत है। लेकिन एक बार विफलता के बाद बार—बार टीम से बाहर किए जाने वाले उमेश यादव दुुर्भाग्शाली खिलाडी है।

गौरतलब है कि केएल राहुल लगातार फ्लॉप हो रहे है। राहुल की पिछली 16 टेस्ट पारियों में से 14 में फेल रहे है। लेकिन उसके बाद भी राहुल को टीम में मौका दिया जा रहा है। लेकिन वहीं दूसरी तरफ यदि बुमराह टीम में शामिल होते है । तो उमेश यादव को बाहर किया जा सकता है।

टीम के गेंदबाजी कोच ने बताया है कि हम उमेश यादव को ऐसे गेंदबाज के रूप में देखते है। जो गति से गेंद कर सकता है। हमारे पास गेंदबाजों को रोटेट करने की प्रणाली भी है। जिससे कि तेज पेसर अपने आप को तरोताजा महसूस कर सके और उमेश इसका हिस्सा है।


केएल राहुल के बारे में बात करते हुए कहा है कि वे एक लंबी रेस के घोडे के तौर पर देखा जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि एक कोच के रूप में मुझे लगता है कि राहुल असाधारण खिलाडी है। जिसमें प्रतिभा है। जिसमें प्रतिभा है। जिसके साथ बरकरार रहने की जरूरत है।

इसके बाद टीम इंडिया के बॉलिंग कोच ने पृथ्वी शॉ की तारीफ की है। शॉ ने पहले टेस्ट मैच में 134 रन की शानदार पारी खेली थी। इसके साथ ही शॉ का वह डेब्यू मैच भी था। इसलिए ​भरत अरूण ने कहा है कि वे एक शानदार खिलाडी है। टीम में एक नई प्रतिभा आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here