उड़ानें रद्द होने से हवाई किराए में 100 फीसदी से ज्यादा की वृद्धि

0
36

सरकार के 737 मैक्स विमान के परिचालन को रोके जाने और कई अन्य कारणों से कई विमानन कंपनियों द्वारा परिचालन रद्द किए जाने से हवाई यात्रियों को अधिक हवाई किराए और कम विमान विकल्प की विकट संभावनाओं का सामना करना पड़ रहा है। उद्योग सूत्रों के मुताबिक, अंतिम क्षणों में बुकिंग कराने में कुछ सेक्टरों में 100 फीसदी से ज्यादा की वृद्धि देखी गई है।

इक्सिगो के सीईओ और सह-संस्थापक आलोक बाजपेई ने कहा, “विभिन्न कारकों से बड़ी संख्या में विमानों का परिचालन रुका हुआ है और इससे सीट क्षमता में कमी आई है, जिससे रातोंरात में विमान किराए में वृद्धि हुई है। दिल्ली-मुंबई, मुंबई-चेन्नई, मुंबई कोलकाता और मुंबई-बेंगलुरू जैसे मुख्य मार्गो पर हवाई किराए में पिछले साल इस वक्त की तुलना में बुधवार को अंतिम क्षणों में बुकिंग कराने में 100 फीसदी से ज्यादा की वृद्धि हुई है।”

उन्होंने कहा, “मुंबई-चेन्नई के लिए मौजूदा किराया 26,073 रुपये पहुंच गया है जबकि पिछले साल इसी अवधि में किराया 5,369 रुपये था। बढ़ती मांग के परिणामस्वरूप होली और गर्मियों की छुट्टियों के नजदीक होने से अधिक हवाई किराए के बने रहने की उम्मीद है।”

इथियोपिया में दुर्घटना के बाद भारत सरकार ने बुधवार को 737 मैक्स विमान का परिचालन रोकने का फैसला किया था जिससे स्पाइसजेट और जेट एयरवेज जैसी विमानन कंपनियों का परिचालन काफी प्रभावित हुआ।

भारत में स्पाइसजेट 12 व जेट एयरवेज पांच 737-800 मैक्स विमानों का परिचालन करता है। जेट फ्लीट का एक हिस्सा अन्य कारणों से भी उड़ान नहीं भर पा रहा है।

परिचालन रोके जाने से स्पाइसजेट को बुधवार को 14 उड़ानों को रद्द करना पड़ा। गुरुवार को इसकी संख्या 32 तक पहुंच सकती है।

स्पाइसजेट के अलावा वित्तीय चुनौतियों का सामना कर रहे जेट एयरवेज के पहले से ही चार विमान परिचालन से बाहर हैं। ये चार विमान पट्टाकर्ताओं की बकाया राशि का भुगतान नहीं किए जाने के कारण परिचालन से बाहर हैं, जिससे कुल संख्या 32 पहुंच गई है।

करीब 50 विमान कलपुरजों की कमी सहित विभिन्न कारणों से परिचालन से बाहर बताए जा रहे हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleआपके शान में चार चांद लगा देगी सुजुकी की ये शानदार बाइक, फीचर्स से लेकर लुक सभी मामलों में है अव्वल
Next articleगोखले की अपील, आतंकवाद पर कड़ा संकल्प ले अमेरिका
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here