बुंदेलखंड के इस गांव में होली के दिन सिर्फ महिलाएं ही होली खेल सकती हैं

0
537

जयपुर। होली देश में रंग बिरंगे त्यौहार है जिसे हर किसी को इंतजार रहता है और लेकिन ऐसी होली के दिन अक्सर महिलाओं को डर और आम तौर पर महिलाओं को एक असहजता महसूस होती है इस दिन देशभर में खरीदारों और कहे हुए दंगे के डर से महिलाएं अपने घरों में होली नहीं खेल पा टी सी के कारण देश में कैसी जगह है जहां होली वाले दिन पुरूष महिलाओं के डर से अपने घरों में छुपे रहते हैं.

बताया जाता है कि उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में ऐसा जिला है जिसका नाम हमीरपुर है और इस जिले में पड़ता है कौन डोर नाम का एक गांव जहां पर अजीबोगरीब चलाना आज वहां होली वाले दिन केवल महिलाएं ही होली खेल सकती है. बताया जाता है कि अगर इस दिन कोई पुरुष बाहर दिख जाए तो उसे महिलाओं द्वारा लाठियों से पीटा जाता है.

मीडिया में छपी रिपोर्ट के अनुसार कुंड ओर नहीं है परंपरा वर्षों से चली आ रही है दरअसल यहां एक नहीं बल्कि 2 दिन होली होती होलिका दहन के ठीक अगले दिन महिलाएं होली खेलती और पुरुषों को होली खेलने के लिए 1 दिन का इंतजार करना पड़ता है. असली होली वाले दिन वह अपने घरों में बंद ही रहते हैं या दोपहर को महिलाओं की होली शुरू होने से पहले ही खाना खा कर खेतों में काम करने के लिए निकल जाते हैं.

इस तरह की परंपरा है बताती है कि किस तरीके से हमारी संस्कृति महिलाओं की इज्जत और महिलाओं का सम्मान करना हमें सिखाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here