आक मात्र 1 पत्ता देगा आपको कई बीमारियों से छुटकारा

आक का फूल भगवान को चढ़ाया जाने वाला फूल साथ ही यह एक तरह का जहरीला पौधा भी होता है कई लोग तो इसको घर मे तक नही लगाते

0
51

जयपुर । आक का फूल भगवान को चढ़ाया जाने वाला फूल साथ ही यह एक तरह का जहरीला पौधा भी होता है कई लोग तो इसको घर मे तक नही लगाते कहते हैं की यह घर मे लगाना अच्छा नही होता यहाँ तक की कई लोगों की मान्यता तो यह भी है यदि इस आंक के पेड़ को सालों साल घर के बागीचे में लगा रहने दिया जाए यानि कई सालों तक लगा रहने दिया जाए तो उस पेड़ में गणेश जी का वास होता है कई लोगों ने तो दावा भी किया है की उनके पेड़ की खुदाई में गणेश जी की मूर्ति भी मिली है पर यह सब सिर्फ मान्यता  और विश्वास की बात है ।

आज हम आपको इस पेड़ के पत्ते की कुछ खासियत बताने जा रहे हैं आंक का पत्ता बहुत ही काम की चीज़ है , आज के अंक में हम आपको बताने जा रहे हैं की कैसे एक आंक का पत्ता आपकी सेहत को अच्छा बना सकता है और के दर्द की परेशानी को छु कर सकता है । आइये जानते हैं इस बारे में यह खास खबर है ।

सूर्य को जितने नामों से जाना जाता है उनते ही नाम से आक के पत्ते को भी। इसकी वैसे तो 4 प्रजातियां होती है लेकिन भारत में सिर्फ दो ही मुख्य रूप से पायी जाती है । आज हम आंक के पत्ते से दर्द से निजात पाने के तरीके बारे में आपसे बात करने जा रहे हैं पर आपको हम यह बता दें की इसका इस्तेमाल करने से पहले आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना होगा कुछ सावधानियाँ बरतनी बहुत जरूरी है ।

इसके पेड़ से निकालने वाले दूध को मुंह चेहरे और आँख से दूर रखें यह आपको स्की की परेशानी , मुंह में जहर का और आँखों में अंधेपन का कारण बन सकता । इसलिए इसका विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए ।

आक के 15 फूलों को एक कटोरी पानी में उबाल लो। उबालने के बाद फूलों को और पानी दोनों को अलग कर लें। इस पानी से आप अब आपने पानी की घुलाई करें। फिर बाद में इन फूलों को अच्छेे से निचुड़ जाने के बाद किसी सूती कपड़े की सहायता से एड़ी पर बांध लें। 10-15 दिनों तक ऐसा लगातार करने से आप आपको जल्द ही दर्द में राहत मिलेगी ।

आक के दूध को थोड़े काले तिलो के साथ कूट लें। फिर इसका पतला सा लेप तैयार कर लें और इस लेप को गर्म करके जिस जगह दर्द हो रहा है वहां अच्छे से मालिश करें जब तक ये तेल गायब न हो जाए। इसके बाद आक के पत्ते पर सरसों का तेल लगा लें  और अपनी कमर पर बांध ले ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here