अब बढ़ती उम्र में भी हो सकता है गर्भधारण, जानियें कैसे

0
23

जयपुर। मेडिकल में की तरह की तकनिकों का इस्तेमाल करके कई असंभव काम किये जा रहे है। इसी तरह से आईआईटी हैदराबाद ने इस दौड़ में शामिल होते हुये हाल ही में कृत्रिम गर्भधारण यानी आईवीएफ तकनीक पर एक नया शोध करने का ऐलान किया है। बता दे कि इस शोध बढ़ती उम्र में गर्भधारण के नये तरीकों को खोजा जायेगा। सूत्रों की माने तो यह परियोजना वर्ष 2018 के लिए वेलकम ब्रिटेन स्मॉल प्रोजेक्ट अनुदान योजना के तहत शुरू की गई है। इस शोध का नाम  ‘अ प्रीलिमनरी स्टडी ऑफ एजिंग एंड असिस्टेड रिप्रोडक्शन इन इंडिया’ रखा गया है।

P

आईआईटी हैदराबाद के अधिकारियों ने बताया कि यह महत्वाकांक्षी परियोजना शूरू हो गई है। जानकारी के अनुसार बता दे कि इस योजना के अंतर्गत अधिक आयु में कृत्रिम गर्भधारण में आने वाली समस्याओं का हल खोजा जायेगा और इस परियोजना के लिए शीघ्र ही इंटरनेशनल लेवल का एक सम्मेलन आयोजित किया जाएगा जिसमें दुनिया भर के शिक्षाविद प्रस्तुतियां देंगे। इस शोध की खास बात यह है कि इस तरह की तकनीक से मातृत्व सुख से वंचित रहे लोगों का इलाज किया जायेगा और उनको मातृत्व सुख प्राप्त कराया जायेगा।

लेकिन यह तकनीक बढ़ती उम्र के लोगों पर बहुत ज्यादा कारगर सिद्ध होगी या नहीं होगी इसका फैसला अभी तक नहीं आया है। आईआईटी हैदराबाद इस सम्मेलन की मेजबानी करेगा। इस सम्मेलन में यूरोप, अमेरिका और एशिया के शोधकर्ता अपने शोध पत्र प्रस्तुत करेंगे और इसी के साथ आईआईटी हैदराबाद के लिबरल आर्ट्स विभाग की सहायक प्रोफेसर अनिंदिता मजूमदार इस शोध का नेतृत्व करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here