प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के आसपास कोई भी नेता नहीं : सर्वेक्षण

0
34

हरियाणा और महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले आईएएनएस और सी-वोटर ने लोगों के बीच सर्वेक्षण किया। इस सर्वेक्षण के अनुसार, मतदाता मानते हैं प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के करीब कोई भी नेता नहीं है। हरियाणा में किए गए सर्वेक्षण में 71.6 फीसदी लोगों ने कहा कि मोदी प्रधानमंत्री बनने के लिए सबसे अच्छे उम्मीदवार हैं, जबकि महाराष्ट्र में 65 फीसदी लोगों ने यही राय दी।

मोदी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनके बेटे राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित अन्य सभी नेताओं से काफी आगे हैं।

हरियाणा में केवल 7.6 फीसदी लोग और महाराष्ट्र में 8.5 फीसदी लोगों ने प्रधानमंत्री के रूप में राहुल गांधी का समर्थन किया।

प्रधानमंत्री पद के लिए सोनिया गांधी को हरियाणा में केवल 0.9 फीसदी और महाराष्ट्र में 1.2 फीसदी लोगों का समर्थन मिला।

हरियाणा में 16 सितंबर और 16 अक्टूबर के बीच कराए गए सर्वेक्षण में शामिल 6.3 फीसदी लोगों ने प्रधानमंत्री के लिए मनमोहन सिंह का समर्थन किया। वहीं महाराष्ट्र में यह आंकड़ा 5.2 फीसदी रहा।

प्रधानमंत्री के लिए जनता दल-यूनाइटेड (जदयू) सुप्रीमो और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हरियाणा में महज 0.4 फीसदी और महाराष्ट्र में 0.2 फीसदी वोट मिले।

इस दिशा में हरियाणा के लोगों से देश के कुछ अन्य नेताओं के बारे में भी पूछा गया। समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता मुलायम सिंह यादव को 0.1 फीसदी, तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 0.3 फीसदी, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती को 2.7 फीसदी और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 2.2 फीसदी लोगों ने प्रधानमंत्री के तौर पर पसंद किया।

महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता शरद पवार को प्रधानमंत्री पद के लिए 7.6 फीसदी लोगों ने समर्थन दिया। जबकि ममता बनर्जी को 0.3 फीसदी, मायावती को 0.9 फीसदी और केजरीवाल को 1.1 फीसदी लोग प्रधानमंत्री देखना चाहते हैं।

इस पद के लिए भाजपा नेताओं में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को 0.3 फीसदी और सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को 0.1 फीसदी वोट मिला।

सर्वेक्षण का एक अन्य पहलू यह था कि क्या 21 अक्टूबर को होने वाले इन दोनों राज्यों के विधानसभा चुनाव लोकसभा चुनावों के परिणामों से प्रभावित होंगे?

सर्वेक्षण में कहा गया है कि हरियाणा में 64.7 जबकि महाराष्ट्र में 64.4 फीसदी लोगों ने इस प्रश्न के लिए ‘हां’ कहा।

इस सर्वेक्षण के लिए हरियाणा के 10,061 जबकि महाराष्ट्र के 19,489 लोगों से राय ली गई।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleभारत के कश्मीर पंडितों ने की अमेरिकी सांसदो से मुलाकात, कश्मीर घाटी के हालात पर की बातचीत
Next articleविश्व बैंक ने गरीबी उन्मूलन में चीन के योगदान की प्रशंसा की
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here