खबर पख्तूनख्वा में 16 सीटों पर हुए चुनाव में 13 पर परिणाम घोषित

0
50

पिछले साल खबर पख्तूनख्वा प्रांत में विलय होने से पहले संघीय शासन वाले कबायली क्षेत्र (फाटा) में प्रांतीय विधानसभा के नए क्षेत्रों का सीमांकन होने के बाद ऐतिहासिक रूप से शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुए मतदान के परिणाम के साथ लोकतंत्र के नए युग का सूत्रपात हुआ है। इलाके की 16 सीटों पर हुए चुनावों के लिए चल रही मतगणना के बाद रविवार को आए 13 सीटों के चुनाव परिणामों में पांच सीटें पीटीआई को मिली जबकि पांच सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार विजयी रहे। रेडियो पाकस्तान के अनुसार, इलाके की 16 सीटों पर संपन्न हुए मतदान के बाद चल रही मतगणना में 13 सीटों पर परिणाम अनाधिकारिक रूप से घोषित हो गए हैं। इनमें से पांच सीटें पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसान (पीटीआई)के खाते में गई हैं। पीटीआई के विजयी उम्मीदवारों में अनवर जेब खान, अजमल खान, सैयद इकबान मियां, आबिद रहमान और मोहम्मद इकबान हैं जो क्रमश: पीके-100 बाजौर-1, पीके-101 बाजौर-2, पीके-109 कुर्रम-2, पीके-115 सीमांत क्षेत्र और पीके-111 उत्तरी बजरीस्तान-1 से चुनाव जीते हैं।

अवामी नेशनल पार्टी, जमियत उलेमा-ई-इस्लाम (एफ) और जमात-ए-इस्लामील को एक-एक सीट मिली है।

एनपी के निसार मोहम्मद खबर पख्तूनख्वा विधानसभा के पीके-103 मोहमंद-1 से और जमियत उलेमा-ए-इस्लाम (एफ) के मोहम्मद रियाज पीके-108 कुर्रम-1 से एवं जमात-ए-इस्लामी के सिराजुद्दीन पीके-102 बाजौर-3 से विजयी हुए हैं।

इसी प्रकार पांच निर्दलीय विजयी उम्मीदवारों में अब्बास रहमान, शाफिक अफरीदी, बिलावल अफरीदी, मोहम्मद शफीक खान और सैयद गाजी गजान जमाल शामिल हैं जो क्रमश: पीके-104-2, पीके-105 खबर-1, पीके-106 खबर-2, पीके-107 खबर-3 और पीके-110 ओरकजई से चुनाव जीते हैं।

बाकी सीटों पर मतगणना चल रही थी। गौरतलब है कि यह कबायली इलाका पिछले दो दशक तक आतंकवाद और सैन्य कार्रवाई से काफी प्रभावित रहा।

खैबर पख्तूनख्वा विधानसभा के लिए कबायली जिलों की 16 सीटों पर मतदान हुआ। इस चुनाव में कुल 285 उम्मीदवार शामिल हुए, जिनमें 84 उम्मीदवार विभिन्न राजनीतिक पार्टियों से थे, जबकि 201 निर्दलीय उम्मीदवार शामिल थे।

चुनाव प्रक्रिया के लिए कुल 1895 मतदान केंद्र बनाए गए थे। किसी भी तरह की शिकायत दर्ज कराने के लिए इस्लामाबाद व पेशावर में शिकायत केंद्र बनाए गए थे।

न्यूज स्त्रेात आईएएनएस


SHARE
Previous articleबारिश में भुट्टे का मजा एक गलती के कारण कहीं बन ना जाए आपकी सेहत के लिए सजा ।
Next articleपरफॉर्मेंस के आधार पर बेंचमार्क परीक्षण में रेडमी K20 प्रो ने वनप्लस 7 प्रो को हराया
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here