प्लास्टिक प्रदूषण को रोकने का नया तरीका, रीसाइकिल कर प्लास्टिक कचरे से लकड़ी का विकल्प संभव

0

जयपुर।पृथ्वी पर प्रदूषण वर्तमान समय में सबसे बड़ी समस्या बन गया है और इसके कारण विश्व के कई देश बुरी तरीके से प्रभावित भी है।पृथ्वी पर बढ़ते वायु प्रदुषण,जल प्रदुषण और भूमि प्रदूषण से कई प्रकार की खतरनाक बीमारिया भी उत्पन्न होने लगी है।इन सब प्रदूषण में भूमि प्रदूषण अपनी अलग अहमियत रखता है और यह अत्यधिक मात्रा में अपशिष्ट पदार्थो के एक जगह जमा होने से बंजर भूमि के रूप में सामने आता है।

इस प्रदूषण में मुख्यकारक प्लास्टिक का कचरा होता है जो कि पृथ्वी की परत को ही नष्ट कर देते है और यह कभी भी धरती में विघटित नही होता है और जिससे की धरती की उर्वरकता खत्म हो जाती है।वही प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूरी तरह खत्म नही किया जा सकता है और जरूरत ऐसे तरीके तलाशने की है, जिससे यह प्लास्टिक ही संसाधन बन जाए।

इसके चलते वैज्ञानिको ने कई प्रकार के शोध किए है जिनमें हाल ही में स्विस शोधकर्ताओं ने प्लास्टिक से 18 कैरेट सोना बनाकर प्लास्टिक के कचरे का इस्तेमाल नये ढंग से करने के बारे में बताया है तो अब कनाडा की एक दूरदर्शी

कंपनी गुडवुड प्लास्टिक ने शहरों के प्लास्टिक कचरे को रीसाइकिल करके लकड़ी के विकल्प के तौर पर तैयार करने का दावा किया है।कनाडा के नोवा स्कॉटिया प्रांत के हालीफैक्स में जमा होने वाले प्लास्टिक कचरे के 80 प्रतिशत भाग

रीसाइकिल कर लकड़ी के विकल्प के तौर ब्लॉक बनाए जा रहे है और इन ब्लॉक का उपयोग बिल्डिंग ब्लॉक में किया जाना संभव बताया जा रहा है।इस प्रकार के इस्तेमाल से जल्द ही प्लास्टिक प्रदूषण की समस्या खत्म हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here