रंजन गोगोई ने हाई कोर्ट के जजों के लिए नए निर्देश जारी करे, जाने क्या है वो

0
47

जयपुर। भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने हाई कोर्ट  के मुख्य न्यायाधीशों और वरिष्ठ न्यायाधीशों से कार्य दिवसों पर छुट्टी नहीं लेनी और हर दिन कामकाजी घंटों के दौरान अदालत में उपस्थित होने को कहा है. गोगोई ने ये बात कोर्ट में पड़े ज्यादा केस को जल्दी निपटने के लिए ये सुझाव दिया. गोगोई ने कार्य दिवसों पर भी किसी  संगोष्ठियों में न जाने के लिए कहा.

आपको बता दे की अब तक 42 हाई कोर्ट में 43 लाख मामले लंबित है और सर्वोच्च न्यायालय में 55,496 मामले लंबित है.

आपको बता दे की 3 अक्टूबर को भारत के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ग्रहण करने वाले गोगोई ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों और वरिष्ठ न्यायाधीशों के साथ बात की और उनसे कार्य करने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा, साथ ही साथ न्यायपालिका में भ्रष्टाचार का मुकाबला करने की बात कही.

उन्होंने उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों से कहा कि उन्हें उन न्यायाधीशों के बारे में सूचित करना चाहिए जो नए कार्य अनुशासन का पालन नहीं करते हैं, और जोर देकर कहा कि सुप्रीम कोर्ट उनसे बात करेगा.

गोगोई ने कहा की अब ऐसे वकीलों को न्यायाधीश बनना चाहिए जो अच्छा पैसा कमाते है ताकि उन पर पैसा कमाने का प्रलोभन न हो. इसके अलावा उन्होंने कहा कि वरिष्ठ न्यायाधीशों को निचली न्यायपालिका में रिक्तियों को भरने के लिए तत्काल उपाय करना चाहिए.

गोगोई ने भारत के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ लेने से पहले एक सेमिनार में कहा था की आज देश की कोर्ट पर भार काफी बड गया है, आज किसी के मामले की सुनवाही तब आती है जब तक वो अपनी सजा काट चूका होता है.इसके अलावा कई मामले सालो में अपना नंबर आने के लिए पड़े है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here