जापान में जन्मी, अमेरिका में पली बढ़ी नई टेनिस सनसनी नाओमी को अब भी अपने जीत पर भरोसा नहीं !

यूएस ओपन 2018 के फाइनल में सेरेना विलियम्स को मात देकर नाओमी आसोका ने साल के चौथे ग्रैंड स्लैम अमेरिकी ओपन का खिताब अपने नाम किया। बता दें की खासतौर से इस जीत के साथ ही नाओमी ग्रैंड स्लैम पर कब्जा जमाने वाली पहली जापानी महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

0
37

जयपुर( स्पोर्ट्स डेस्क)। यूएस ओपन 2018 के फाइनल में सेरेना विलियम्स को मात देकर नाओमी आसोका ने साल के चौथे ग्रैंड स्लैम अमेरिकी ओपन का खिताब अपने नाम किया। बता दें की खासतौर से इस जीत के साथ ही नाओमी ग्रैंड स्लैम पर कब्जा जमाने वाली पहली जापानी महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

ओसका ने पूर्व विश्व नंबर 1 सेरेना को महिला एकल वर्ग के फाइनल में सीधे सेटों में 6-2, 6-4 से मात देकर खिताबी जीत हासिल की । 20 साल की खिलाड़ी के करियर का यह पहला ग्रैंड स्लैम खिताब है। गौरतलब है कि विवादों के बीच हुए खिताबी मुकाबले में नाओमी अमेरिकी खिलाड़ी मैडसिन की को सीधे सेटों में 6-2,6-4 से हारकर जगह बनाई थी ।

सबसे दिलचस्प बात ये भी है कि नाओमी ने अपने पहले ग्रैंड स्लैम खिताब को जीतने के बाद कहा है कि अभी भी उन्हें विश्वास नहीं हो रहा है कि उनके साथ क्या हुआ है । बता दें की मैच के बाद नाओमी ने कहा कि बचपन से उनका सपना था कि वह अपनी आदर्श सेरेना विलियम्स के साथ खेले।

पर उनके लिए विश्वास करने वाली बात नहीं हो रही है कि उन्होंने अपने आदर्श को ही हरा दिया है। साथ ही उन्होंने सेरेना और मैच के रेफरी के विवाद पर कहा है कि मुझे नहीं पता कि कोर्ट पर क्या हुआ मेरे लिए यह मैच हमेशा यादगार रहेगा। क्योंकि यहमैच सेरेना के खिलाफ था।

दर्शकों के बीच काफी शोर हो रहा था और मैंने कुछ सुना नहीं । मेरा ध्यान केवल मेरे खेल पर था। सेरेना एक दिग्गज खिलाड़ी हैं औ मैं जानती थीं वह कभी भी वापसी कर उलटफेर सकर सकती हैं इसलिए उस समय में केवल अपने प्रदर्शन पर ध्यान दे रही थी।

दोस्तों यह स्टोरी आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में दीजिए अपनी राय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here