“लोकतंत्र को खामोश करने की हो रहीं हैं कोशिश”:राज्सभा सांसदो के निलंबन पर राहुल गांधी

0

कृषि विधेयकों को लेकर संसद में लगातार हंगामा जारी है।सोमवार को राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही सभापति वैंकेया नायडू ने रविवार को हंगामा करने वाले विपक्ष के 8 सांसदों को एक हफ्ते के लिए निलंबित कर दिया।लेकिन जिसके बाद सांसदो का सदन मे विरोध प्रदर्शन ज़ारी हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सांसदों के निलंबन को लेकर कड़ी आलोचना की है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला है।राहुल गांधी ने कहा है कि “लोकतांत्रिक भारत की आवाज़ दबाना जारी है, शुरुआत में उन्हें चुप किया गया, और बाद में काले कृषि कानूनों को लेकर किसानों की चिंताओं की तरफ से मुंह फेरकर संसद में सांसदों को निलंबित किया गया। इस ‘सर्वज्ञ’ सरकार के कभी खत्म नहीं होने वाले घमंड की वजह से पूरे देश के लिए आर्थिक संकट आ गया है”।इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी निलंबन को लेकर मोदी सरकार की कड़ी आलोचना की।ममता बनर्जी ने ट्विटर पर लिखा,”किसानों के हितों की रक्षा के लिए लड़ने वाले आठ सांसदों का निलंबन दुर्भाग्यपूर्ण है,ये इस निरंकुश सरकार की सोच का परिचायक है कि वह लोकतांत्रिक नियमों और सिद्धांतों का सम्मान नहीं करती।हम नहीं झुकेंगे और इस फासीवादी सरकार से संसद में और सड़कों पर लड़ेंगे।”

आपको बता दें की निलंबित होने वाले सांसदों में डेरेक ओ’ब्रायन (तृणमूल कांग्रेस),संजय सिंह (आम आदमी पार्टी),राजू साटव (कांग्रेस),केके रागेश (सीपीआई-एम), रिपुण बोरा (कांग्रेस),डोला सेन (तृणमूल कांग्रेस),सैयद नासिर हुसैन (कांग्रेस),एलमाराम करीम (सीपीआई-एम)।बीजेपी सांसद ने इनकी शिकायत की थी।जिसके बाद सभापति वैंकेया नायडू ने सदन की कार्यवाही शुरू होते ही इन सांसदों के खिलाफ एक्शन लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here