फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों के खिलाफ भोपाल में प्रदर्शन, Video शेयर कर ये बोले BJP नेता….

0

फ्रांस ने मौजूदा स्थिति को देखते हुए इस्लामी कट्टरपंथियों के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने की बात पर जोर दिया है। हालाँकि मैक्रों के कड़े रुख को ले ले कर पूरी दुनिया में मुस्लिमो ने प्रदर्शन किया है, हाल ही में बांग्लादेश से ले कर के तुर्की सहित कई देशो में मुस्लिम्स ने मैक्रों के खिलाफ जबरदस्त विरोध किया है। भारत में अब तक इस मामले के संबद्धंद में अब तक कुछ बड़ा नहीं हुआ है, पर हाल ही में मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में इसे ले कर एक प्रदर्शन देखने को मिला है। यहां एक बड़ा मुद्दा तो तब बन गया जब इसका एक वीडियो सम्भित पात्रा जो एक भाजपा नेता है ने ट्विटर पर शेयर किया और उसे भयावह बताया।

हलाकि सम्भित पात्रा की इस ट्वीट पर यूजर्स ने उन्हें ट्विटर से लेकर अखबारों तक हर जगह ट्रोल करना शुरू कर दिया। उन पर लोगो ने कई आरोप लगाए जैसे एक व्यक्ति ने कहा की ” मध्यप्रदेश में तो वैसे ही आपकी सरकार है पर फिर भी मुंगेर में हिंदुओं पर गोली चलवा कर तुम भाजपाइयों ने हिंदुओं का जो नरसंहार करवाया है उसका हम सब हिंदू एक होकर जवाब देंगे बिहार चुनाव में। नरेंद्र मोदी, हिंदू विरोधी!” वहीं भारत सिंह सेंगर नाम के यूजर ने कहा, “आपकी ही सरकार है वहां पे, इतने लोग इकट्ठा हो गया पुलिस कहां थी, अब तो विपक्ष मोड से वापस आओ।” हालाँकि सवाल ये उठ रहा है की मैक्रों पर विवाद क्यों हो रहा है ? फ्रांस, यूरोप का एक ऐसा देश है जहां 10 प्रतिशत से भी कम मुस्लिम पाए जाते है। और उन्हें से भी अधिकतर वो है जो दूसरे देशो से आये है जिसके कारण सीरिया और इराक के बार अब कई आतकवादी संगठन अब फ्रांस को पाना निशाना बना रहे है।

आतंकी हमलो के कारण कई बार फ्रांस के राष्ट्पति इस्लामी आतंकवाद और कट्टरपंथ से लड़ने की बात पर जोर दे चुके है। हलाकि इस पर लोगो ने फ्रांस की धर्मनिरपेक्षता को सर्वोपरि बताते हुए इस्लाम को संकट में पड़ा हुआ बताया था। इसके अलावा कुछ दिन पहले फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद का एक आपत्तिजनक कार्टून दिखाने वाले एक टीचर की हत्या के बाद मैक्रों ने कट्टरपंथी ताकतों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को ले कर कदम उठाने की बात भी की थी। इसी फैसले के चलते कई लोगो को गिरफ्तार किया गया काफी सरे मुस्लिम NGO बंद किये गए है जिसके चलते उनके खिलाफ साडी दुनिया में विरोध चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here