वाराणसी यात्रा: नौका विहार से लेकर भोजन तक, राजशाही अंदाज में हुई मोदी-मैक्रों की खातिरदारी!

0
177

भारत के चारदिवसीय दौरे के अंतिम चरण में फ्रांसीसी राष्ट्रपति सोमवार को वाराणसी की यात्रा करने पहुंचे जहां उनके साथ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित थे। वाराणसी में दोनों नेताओं का भव्य स्वागत किया गया, इस दौरान फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने भारत की सांस्कृतिक राजधानी वाराणसी के करीब से जाना।

Image result for MODI+MACRON+BANARAS+hotel gateway

जानकारी के लिए बता दें कि, प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति मैक्रों सुबह करीब 10 बजे वाराणसी पहुंच गए, जहां उनके राजशाही ढंग से स्वागत के लिए योगी आदित्यनाथ भी वहां मौजूद थे। वाराणसी पहुचने के बाद दोनों नेती मिर्जापुर के लिए रवाना हो गए और वहां पहुंचकर प्रधानमंत्री मोदी और फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने बटन दबाकर 75 मेगावॉट उत्पादन क्षमता और 380 एकड़ से ज्यादा क्षेत्र में फैले सौर ऊर्जा संयंत्र का लोकार्पण किया।

गौरतलब है कि, भारत यात्रा की योजना बनते ही राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने वाराणसी जाने की इच्छा जाहिर की थी। जिसके बाद सोमवार को वाराणसी पहुंचकर पीएम मोदी की गइडेंस में मैक्रों को भारत की संस्कृति, कला और आध्यात्मिक धरोहर से रूबरू होने का मौका मिला। इस दौरान पीएम मोदी, राष्ट्रपति मैक्रो औऱ योगी आदित्यनाथ ने नौका विहार के माध्यम से भारतीय सांस्कृतिक राजधानी और आध्यात्मिक नगरी काशी स्थित गंगा नदी में नौका विहार का आनंद लिया।

खबरों के मुताबिक, नौका विहार के दौरान दोनों नेताओं का गंगा के अस्सी घाट पर राजशादी ढंग से पुष्पवर्षा के साथ गर्मजोशी से स्वागत हुआ। इस दौरान शहनाई की धुन और ‘शुक्ल यजुवेन्द्र‘ मंत्रोच्चार गंगा घाट को आध्यात्मिक माहौल प्रदान कर रहे थे। इतना ही नहीं, फ्रांसीसी राष्ट्रपति को पुष्पक विमान के भी दर्शन करवाएं गए। दोनों नेताओं ने नौका विहार के दौरान तुलसी घाट से गुजरते वक्त रामलीला का मंचन देखा और श्रीराम चरित मानस का पाठ भी सुना।

प्रभु घाट और चेतसिंह घाट पर विभिन्न कलाकारों ने महात्मा बुद्ध और उनके सारनाथ में दिए गए पहले उपदेश की झांकी प्रस्तुत की।

अखाड़ा श्री निरंजनी घाट पर ‘भस्म श्रृंगार‘ में लिपटे नागा साधुओं ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज की।

मानसरोवर घाट पर संत कबीर के दोहों का उच्चारण किया जा रहा था।

पाण्डेय घाट और चौसट्टी घाट पर बनारस घराने के कलाकारों द्वारा कथक और शास्त्रीय संगीत का आयोजन।

दशाश्वमेध घाट पर नौका विहार का समापन और दोनों नेताओं ने लोक संगीत और नृत्य का खूब आनन्द उठाया।

Image result for MODI+MACRON+BANARAS+hotel gateway

नौका विहार के बाद दोनों नेता होटल गेटवे के नदेसर पैलेस में भोजन के लिए रवाना हुए, जहां दोनों नेताओं के स्वागत में पूरा होटल फूलों से सजाया हुआ था। करीब तीन बजे होटल पहुंचने के बाद फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों ने कुर्ते पजामा धारण करके भारतीय व्यंजनों का जमकर लुफ्त उठाया। इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री मोदी को यहां का खाना इतना पंसद आया कि, वे अपने साथ यहां का मेन्यू कार्ड भी लेते गए। यहां दोनों नेताओं ने होदल गेटवे के बाहर जमा हुए स्थानीय से भी मुलाकात की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here