फिल्म समीक्षाः गरीबी में पल रहे अंडरग्राइउंडर रैपर की कहानी है आलिया और रणवीर सिंह की गली बॉय

0
584

बॉलीवुड मे मशहुर डायरेक्टर जोया अख्तर की फिल्म गली बॉय आज रिलीज हो चुकी है।गली बॉय एक रैपर की कहानी है।ये कहानी मुंबई के धारावी के मुराद की है जो कि अपनी गरीबी से हर दिन लड़ रहा है।मुराद के साथ उसके मां-बाप, दादी और भाई।गरीबी और तंगी में रहते है।फिल्म में मुराद के सपने तो बड़े बड़े होते है लेकिन हमेशा उसे हमेशा इस बात का सामना करना पड़ता है कि एक नौकर का बेटा नौकर ही बन सकता है।लेकिन समाज की इस सोच से परे मुराद के अंदर कुछ कर गुजरने का ज्जबा होता है जो कि एक रैपर बनने का सपना होता है।

बता दें फिल्म की ये कहानी सिर्फ़ एक लड़के के रैप स्टार बनने की नहीं बल्कि एक रूढ़िवादी सोच को झकझोरने की है लेकिन बड़े ही सहज तरीक़े से जोया अख्तर ने इस गरीबी और एक बिंदास जिद्दी लड़की के बीच ये रैपिंग की कहानी रची है।इस दौरान फिल्म की स्क्रीप्ट, डायलॉग डिलेवरी काफी जबरदस्त है।

इन सभी चीजों में रैपिंग दुगना मजा डालती है।फिल्म मे पुरी तरह से गरीबी और किसी इंसान के सच्चे सपने की वास्तविकता दिखाई गई है।वही फिल्म में आलिया रणवीर की एनर्जी भी फिल्म में जान डालती नजर आती है।इसी दौरान फिल्म को 3.5 स्टार दिये गये है।फिल्म में आलिया और रणवीर के अभिनय के बारे में जितना बोला जाए उतना कम है।

इसके अलावा यदि बात फिल्म की कमियों की करे तो फिल्म को इतनी बड़ी बनाना जरुरी नहीं था।हालांकि फिल्म की कहानी तो ट्रेलर में ही समक्ष आने लगती है।वही फिल्म में मुराद के अंदर की उर्जा सिर्फ रैपिंग करते समय ही नजर आती है इसके अलावा जिन लोगों को रैपिंग पसंद नहीं उनके लिए ये फिल्म किसी प्रकार का मजा नहीं दे पाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here