मूडीज ने घटाई भारत की रेटिंग! कहा- 2022 से पहले नहीं होगी इकोनॉमी में रिकवरी

0

अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट एजेंसी मूडीज इनवेस्टर सर्विसेज ने भारत की सॉवरेन रेंटिंग में कटौती की है। मूडी ने इसे Baa2 से घटाकर Baa3 कर दिया है। भारत की इकोनॉमी क लेकर इसका निगेटिव आउटलुक को बरकरार रखा है। इस बीच वित्त मंत्रालय ने कहा है कि मौजूदा दौर में मूडीज ने 25 अन्य देशो की रेंटिंग घटाई है। उन्हें निवेश के लिहाज से डाउनग्रेड कर दिया है। इसके चलते रेटिंग में कटौती को लेकर ज्यादा चिंता का विषय नहीं हैं।

रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा है कि कोरोना संकट से उबरने के लिए सरकार ने इकोनॉमी में जान फूंकने के लिेए जो पैकेज दिया गया है। उसमें नकद प्रोत्साहन खास नहीं है। इसके चलते मांग में बढ़ोतरी नहीं हो सकेगी। मूडीज ने कहा है कि हालात ऐसे ही रहे तो 2022 से पहले अर्थव्यवस्थी की रिकवरी को लेकर कोई खास संभावना नहीं हैं।

कोरोना संकट और लॉकडाउन से देश की इकोनॉमी को गहर झटका लगा है। इससे उबरने में सरकार को आने वाली दिक्कतों को देखते हुए मूडीज ने सॉवरेन रेंटिंग घटा दी है। इसके तहत राजकोषीय घाटा और बढ़ने, फाइनेंशिययल सेक्टर और मांग में गिरावट जैसी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसके चलते भारतीय इकोनॉमी बुरी तरह से प्रभावित हुई है। मूडीज रेटिंग एजेंसी ने डाउनग्रेडिंग को ऐसे वक्त की है जब मोदी सरकार ने देश के अलग-अलग सेक्टर के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया है।

रेटिंग यह प्रदर्शित करती है कि एक देश भविष्य में अपनी देनदारियों को चुकानें में सफल होगा या फिर नहीं। हालांकि, भारत बाहर से बहुत ज्यादा कर्ज नहीं लेता। इस वजह से डाउनग्रेडिंग से ज्यादा असर नहीं होगा।

Read More…
इंडिया से बदलकर भारत होना चाहिए देश का नाम? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज…
देश में कोरोना संक्रमित पहुंचे 2 लाख के करीब, पिछले 24 घंटे में 8171 मामले आए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here