#Metoo अभियान के तहत सुभाष घई भी आए लपेटे में, ​महिला ने लगाया रेप का आरोप, सुनाई दिल दहला देने वाली कहानी

0
108

इस वक्त पूरे देश में #Metoo अभियान चल रहा है जिसका असर अब दिखने भी लगा है। इस अभियान के तहत ग्लैमर की दुनिया का काला सच धीरे धीरे ही सही पर अब सामने आ रहा है। इसके लपेटे में अब बॉलीवुड के जाने माने निर्देशक और फिल्ममेकर सुभाष घई का नाम भी सामने आ चुका है। सुभाष घई पर एक महिला ने रेप का आरोप लगाया है। उस महिला के अनुसार सुभाष घई ने उन्हें नशीला पदार्थ खिलाकर रेप किया था। जब इस बात की जानकारी सामने आई तो पूरा बॉलीवुड हिल गया है। उस महिला का नाम महिमा कुकरेजा है जिसने सुभाष घई पर आरोप लगाया है।

महिमा ने सोशल मीडिया के #MeToo पर पोस्ट जारी करते हुए सुभाष घई पर गंभीर आरोप लगाए है।

उन्होंने लिखा कि, ‘मैं उस वक्त सुभाष घई के साथ एक फिल्‍म पर काम कर रही थी। इसके बाद उन्होंने मेरा मेंटर बनना स्‍वीकार किया। मैं उस वक्त मुंबई में नई थी और मैंने उन पर भरोसा किया था। शुरुआत में मुझे सुभाष घई म्‍यूजिक रिकॉर्डिंग के बारे में बात करते थे। इसके लिए मुझे रात में देर हो जाती, इसके बाद रात को मैं ऑटो से या फिर घई मुझे घर तक छोड़ देते थे। इसके बाद उन्होंने मेरी जांघ पर हाथ रखना शुरू किया, अच्‍छे काम की बधाई देने के बहाने मुझे सुभाष घई अपने गले लगा लेते। एक दिन स्क्रिप्‍ट पर बात करने के लिए मुझे मुंबई के लोखंडवाला में बुलाया गया। उन्होंने मुझसे कहा था कि, वहां पर फिल्म की हिरोइन भी होगी लेकिन जब मैं वहां पहुंची तो अकेली थी। इसके बाद उन्होंने मेरी गोद में अपना सिर रखा और इंडस्‍ट्री के बारे में बोलते हुए जबर्दस्‍ती किस करने लगे। इसके बाद वो मुझे एक होटल में लेकर गए। सुभाष घई ने वहां पर मेरे साथ रेप किया। जब मैं सुबह उठी तो वो नाश्‍ता कर रहे थे। इसके बाद मैं कई दिनों तक ऑफिस नहीं गई। इसके बाद उन्होंने मुझे मेरी वेतन रोकने की धमकी दी, मैं सिर्फ अपना वेतन पाने के लिए एक सप्‍ताह ऑफिस गई। इस घटना के बाद मैंने कभी उनसे मुलाकात या बात नहीं की। बात दें, महिला ने ट्विटर पर चैट के स्क्रीनशॉर्ट पोस्ट किए।

वहीं निर्देशक सुभाष घई ने अपने पर लगे आरोप पर सोशल मीडिया पर कहा कि, मैंने हमेशा महिला का सम्मान किया है। आज कल पुरानी बातों को बोलने का नया फैशन चल पड़ा है। मेरे पर लगे इन सभी आरोपों को खारिज करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here