कांग्रेस नहीं बल्कि कांग्रेस के इस पूर्व नेता की नई पार्टी से छत्तीसगढ़ में हाथ मिला सकती हैं मायवती

खबरों की मानें तो कांग्रेस राजस्थान और मध्य प्रदेश में तो बसपा से हाथ मिलाना चाह रही है, लेकिन छत्तीसगढ़ में वो बसपा से किनारा कर सकती है।

0
360

जयपुर। कांग्रेस के लिए आगामी चार राज्यों के विधानसभा चुनाव काफी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं। मई के महीने में कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनावों के बाद कांग्रेस ने जिस तरह से सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद भाजपा को सरकार बनाने से रोका, वो उसके लिए एक टॉनिक की तरह काम कर रहा है।

इस साल के आखिरी में राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मिज़ोरम में विधानसभा चुनाव होने हैं। जहां भाजपा इन चार राज्यों में से तीन राज्यों में फिलहाल सरकार में है, वहीं कांग्रेस के पास मिज़ोरम जैसा छोटा राज्य है।

खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पिछले कई दिनों से राज्यों के चुनावों में क्षेत्रीय पार्टियों से गठबंधन की बात कर रहे हैं। इसी वजह से ये माना जा रहा है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस दलितों की राजनीति करने वाली बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन कर सकती है, जिसकी वजह से इन तीनों राज्यों में उसे दलित वोटों का फायदा हो सके।

खबरों की मानें तो कांग्रेस राजस्थान और मध्य प्रदेश में तो बसपा से हाथ मिलाना चाह रही है, लेकिन छत्तीसगढ़ में वो बसपा से किनारा कर सकती है। ऐसे में मायावती ने अब तीसरा समीकरण निकालने की शुरुआत कर दी है।

मायवती ने मुलाकात की है कांग्रेस से निष्कासित, छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के अध्यक्ष अजीत जोगी से। जोगी छत्तीसगढ़ की राजनीति में काफी सफल नेता माने जाते रहे हैं और मायावती की पार्टी से हाथ मिलाने के बाद चुनावों में उनको फायदा पहुंच सकता है।

दूसरी तरफ मायावती ने फिलहाल साफतौर पर ये नहीं कहा है कि वो कांग्रेस से गठबंधन के सारे दरवाज़े बंद कर रही हैं। मायावती खुद चाहती हैं कि राज्य में वो कांग्रेस से गठबंधन कर ले, क्योंकि जोगी अपनी पार्टी के एकमात्र बड़े नेता हैं और कांग्रेस के पास पूरा का पूरा संगठन है।

हो ये भी सकता है कि पूर्व कांग्रेसी होने की वजह से जोगी बाद में कांग्रेस को समर्थन दे दें और चुनावों से पहले कांग्रेस राजस्थान और मध्य प्रदेश के प्रेशर में बसपा से गठबंधन कर ले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here