24 साल बाद एक मंच पर मुलायम-मायावती, क्या बोलीं मायावती

0
74

जयपुर। मैनपुरी में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार मुलायम सिंह यादव के चुनाव प्रचार प्रसार के लिए संयुक्त रैली में मुलायम सिंह यादव और मायावती दोनों एक बार फिर से आजादी के 24 साल बाद ऐसा हुआ कि दोनों नेता एक मंच पर आए हो.

आपको बता दें कि आज मायावती मुलायम सिंह यादव मुलायम सिंह यादव अखिलेश यादव आपने कई बार सुन चुके हो मैं ज्यादा नहीं बोलूंगा आप हमें दिखा देना पहले भी जीत आते रहे हो इस बार भी जीता देना.

भतीजी ने हमारा साथ दिया है मैं इनका एहसान कभी नहीं भूलूंगा मुझे खुशी की वह आज हमारे साथ आइए हमारे क्षेत्र में आई है इसके अलावा मुलायम ने अपने कार्यकर्ताओं से यह भी कहा कि मायावती मायावती जी का हमेशा सम्मान करना.

इसके बाद मायावती जी ने भी चुनावी रैली को संबोधित किया और उन्होंने मालम सिंह यादव को भारी मतों से जिताने की अपील की इसके अलावा उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव नरेंद्र मोदी की तरह नकली पिछड़े वर्ग से नहीं वास्तव में पिछड़े वर्ग से वास्ता रखते हैं इसके अलावा मायावती गेस्ट हाउस कांड का नाम लिखकर उन्होंने कहा कि उसे भूलाकर गठबंधन करने का फैसला किया गया.

वहीं आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव को यहां के लोग असली और अपना नेता मान कर चलते हैं नकली और पिछड़े वर्ग के नहीं है यह पीएम मोदी की तरह नकली पिछड़े नहीं है यह सभी बातें मायावती ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहीं आपको बता दें कि आज पहली बार पिछले 24 सालों में अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह यादव और मायावती एक साथ नजर आए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here