कमजोर वैश्विक संकेतों से लगातार टूटा Share Market

0

देश के शेयर बाजार में इस सप्ताह के आखिर दो दिनों में कारोबारी रुझान कमजोर रहा। विदेशी बाजारों से मिले निराशाजनक संकेतों से घरेलू शेयर बाजार में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुआ। सेंसेक्स 441 अंक लुढ़ककर 50,405 पर ठहरा और निफ्टी भी 143 अंक फिसलकर 4,938 पर बंद हुआ। धातु, पावर, टेलीकॉम समेत तकरीबन तमाम सेक्टरों में बिकवाली का भारी दबाव बना रहा। सेंसेक्स 440.76 अंक यानी 0.87 फीसदी टूटकर 50,405.32 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 142.65 अंकों यानी 0.95 फीसदी की गिरावट के साथ 14,938.10 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते सत्र से 328.72 अंकों की गिरावट के साथ 50,517.36 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 50,160.54 तक लुढ़का जबकि सेंसेक्स का ऊपरी स्तर 50,886.19 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी बीते सत्र से 102.80 अंकों की गिरावट के साथ 14,977.95 पर खुला और 14,862.10 तक फिसला जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान निफ्टी का ऊपरी स्तर 15,092.35 रहा।

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सत्र से 396.39 अंकों यानी 1.89 फीसदी की गिरावट के साथ 20,587.80 पर बंद हुआ, जबकि स्मॉलकैप सूचकांक 318.05 अंकों यानी1.89 फीसदी की गिरावट के साथ 20,587.80 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से नौ शेयरों में तेजी रही, जबकि 21 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स के सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में ओएनजीसी (1.95 फीसदी), मारुति (1.60 फीसदी), कोटक बैंक (1.38 फीसदी), नेस्ले इंडिया (0.75 फीसदी) और अल्ट्राटेक सीमेंट (0.50 फीसदी) शामिल रहे।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में इंडसइंड बैंक (4.79 फीसदी), एसबीआईएन (3.03 फीसदी), पावरग्रिड (2.13 फीसदी), डॉ.रेड्डी (1.86 फीसदी) और एनटीपीसी (1.85 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से 18 सेक्टरों में गिरावट रही, जबकि ऊर्जा सेक्टर का सूचकांक मामूली बढ़त (0.07 फीसदी) के साथ बंद हुआ।

बीएसई के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में धातु (2.16 फीसदी), पावर (1.80 फीसदी), टेलीकॉम (1.77 फीसदी), औद्योगिक (1.66 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (1.66 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई पर कुल 3,430 शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1,143 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए जबकि 2,112 शेयरों में गिरावट रही। वहीं, कारोबार के आखिर में 175 शेयर बिना किसी बदलाव के बंद हुए।

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleICC World Test Championship के फाइनल में भारत का मुकाबला होगा न्यूजीलैंड से, जानिए कब और कहां खेला जाएगा मैच
Next articleASSAM ELECTIONS : असम में कांग्रेस ने किया 50 फीसदी महिला आरक्षण का वादा
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here