Malmaas 2020: मलमास में करें इन महामंत्रों का जाप, बनी रहेगी भगवान विष्णु की कृपा

0

हिंदू धर्म में मलमास महीने का विशेष महत्व बताया गया हैं वही मलमास को अधिकमास या पुरुषोत्तम माना के नाम से भी जाना जाता हैं अभी मलमास का महीना चल रहा हैं यह 18 सितंबर से शुरू हुआ था जो कि 16 अक्टूबर को समाप्त होगा। इस माह के अधिपति देव भगवान विष्णु हैं इस कारण से मलमास में श्री विष्णु के विभिन्न रूपों की आराधना का विधान होता हैं इसके अतिरिक्त श्री विष्णु के मंत्रों का जाप करना फलदायी माना जाता हैं मलमास के दौरान मनुष्य को श्रीमद्भभागवत कथा सुननी चाहिए। इससे उसे कई गुना फल की प्राप्ति होती हैं।

वही मलमास के समय में जगत के पालनहार श्री विष्णु के मंदिरों में उनका दर्शन करना भी अच्छा होता हैं ले​किन कोरोना महामारी के समय ऐसा संभव नहीं हैं तो ऐसे में आप घर पर रोजाना स्नान आदि के बाद श्री हरि विष्णु के कुछ प्रभावशाली महामंत्रों का जाप कर पुण्य प्राप्त कर सकते हैं।

जानिए भगवान विष्णु का मंत्र—

1. गोवर्धनधरं वन्दे गोपालं गोपरूपिणम्।

गोकुलोत्सवमीशानं गोविन्दं गोपिकाप्रियम्।।

2. ओम नमो भगवते वासुदेवाय।

3. ऊं नारायणाय विद्महे वासुदेवाय धीमहि तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।

4. शांता कारम भुजङ्ग शयनम पद्म नाभं सुरेशम।

विश्वाधारं गगनसद्र्श्यं मेघवर्णम शुभांगम।

लक्ष्मीकान्तं कमल नयनम योगिभिर्ध्यान नग्म्य्म।

वन्दे विष्णुम भवभयहरं सर्व लोकैकनाथम।।

आपको बता दें कि इन मंत्रों का जाप करने से पहले आप को पूरी तरह से पवित्र होना होगा। भगवान श्री विष्णु की पूजा करने के बाद इन मंत्रों का सही उच्चारण करें और अपने मन की बात भगवान श्री विष्णु से भी कहें ऐसा करने से आपकी इच्छाएं जल्दी पूरी हो जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here