राजस्थान: सतीश पूनिया के भाजपा अध्यक्ष बनने का असर राजे से ज्यादा राज्यवर्धन पर क्यों हुआ है?

0
71

जयपुर।    राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए सतीश पूनिया को पदभार और जिम्मेदारियां औपचारिक रूप से दे दी गई है औपचारिक स्त्री क्योंकि यह जिम्मेदारी 14 सितंबर को दी गई थी. पुनिया अजमेर से विधायक हैं वही आपको बता दें कि उससे पहले मदन लाल सैनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष थे. जिनका करीब ढाई महीने पहले निधन हो गया था तब से राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी का कोई भी प्रमुख नहीं था.

सतीश पूनिया का राजस्थान भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष बनना कई मायने रखता है और इसे लेकर कहीं चर्चा है. सबसे पहली तो यह कि चार दशकों में भारतीय जनता पार्टी का राजस्थान में पहली बार कोई जाट नेता अध्यक्ष पद के लिए चुना गया जबकि जाटों को मूल्य थे कांग्रेस का वोट बैंक माना जाता रहा है. वहीं इसके साथ-साथ प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की छवि जाटों के प्रतिद्वंद्वी समुदाय राजपूतों के पार्टी के तौर पर स्थापित रही है.

लेकिन अब सतीश पूनिया को भारतीय जनता पार्टी ने अपने प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपकर एक नया ही दांव खेला है और ना सिर्फ जाट बल्कि अन्य पिछड़े वर्ग ओबीसी को भी निशाना साधने की कोशिश करी गई है मदन लाल सैनी आपको बता दें कि इसी वर्ग से ताल्लुक रखते थे.

उनके अध्यक्ष बनने पर एक चर्चा यह भी है कि राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया राजनीतिक कारों का मानना है कि पूर्णिया की नियुक्ति राज्य को प्रभावहीन दिशा में आगे बढ़ा रही है. वहीं आपको बता दें कि ऐसी कई बार खबर आई है कि केंद्रीय नेतृत्व और वसुंधरा राजे के बीच में तालमेल नहीं बनता है.

 

वहीं उनके अध्यक्ष बनने पर तीसरी बड़ी चर्चा जो है वह राज्यवर्धन राठौड़ का अब राजस्थान में किस तरीके का किरदार रहेगा तो बता दे कि मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में यह केंद्रीय मंत्री रहे थे, लेकिन दूसरे कार्यकाल में अच्छे काम के बावजूद भी ने मंत्री पद नहीं दिया गया और राजस्थान की जिम्मेदारी सौंपी गई थी यह राजस्थान की जयपुर ग्रामीण सीट से लोकसभा के सांसद हैं और अब राजस्थान में इनका किस तरीके का काम रहेगा या राजस्थान में इसकी किस तरीके की भूमिका रहेगी यह आने वाला समय बनाया बताया जाएगा, लेकिन राजवर्धन सिंह राठौड़ के कार्यकाल के अपेक्षाकृत संतोषजनक पुनिया को माना जा रहा है यह भी राजनीति का मानना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here