भगवान कृष्ण के अलावा इस पांडव के पास भी थी ​भविष्य देखने की दिव्यशक्ति, एक कारण की वजह से छिपाए रखा रहस्य

0

हर कोई अपने भविष्य के बारे में जानना चाहता हैं इसके लिए लोग ज्योतिषशास्त्र और हस्तरेखा शास्त्र का सहारा भी लेते हैं वही ऐसा कहा जाता हैं कि अगर व्यक्ति खुद का भविष्य देख पाता हैं तो शायद कोई भी अनहोनी नहीं होती। मगर महाभारत के विषय में कहा जाता हैं कि संपूर्ण समाज के कल्याण के लिए महाभारत की घटनाएं होने से कोई नहीं रोक सकता था। भगवान कृष्ण सब कुछ जानते थे। मगर वो सभी के कर्मों को रोक नहीं सकते थे। मगर क्या आप जानते हैं कि श्रीकृष्ण के अलावा एक पांडव ऐसे भी थे, जिन्हें भविष्य में होने वाली घटनाओं के बारे में सब कुछ पता था। तो आज हम आपको उन्हीं के बारे में बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

ऋषि वेद व्यास द्वारा रचित महाभारत ग्रंथ के मुताबिक पाण्डवों में से सहदेव ही एक ऐसे थे, जिन्हें ज्योतिषशास्त्र का बहुत ही अच्छा ज्ञान था। उन्हें आने वाले वक्त में होने वाली सभी घटनाओं के बारे में पहले से ही ज्ञात हो जाता था। केवल महाभारत के युद्ध के विषय में ही नहीं बल्कि उन्हें हर अप्रिय घटना के बारे में पहले से ही पता था। लेकिन सब कुछ जानने के बाद भी सहदेव ने अप्रिय घटनाओं को रोकने का प्रयास नहीं किया। वो चाहते तो सब कुछ पल भर में ही रोक सकते थे या सभी को परिणाम बताकर सजग कर सकते थे। मगर इस सबसे परे वो हमेशा ही मौन रहे। बता दें कि इसका सबसे बड़ा कारण था। भगवान श्रीकृष्ण द्वारा सहदेव से लिया गया वचन।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here