सुषमा स्वराज की पहली पुण्यतिथि पर नेताओ ने सुषमा को दी श्रदांजलि

0

आज 6 अगस्त 2020 को पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की पहली पुण्यतिथि है। उनकी पुण्यतिथि पर लगभग देश के सभी नेताओं ने उन्हें याद किया और उन्हें श्रदांजलि दी। नेताओं ने कहा की भारत की कूटनीति में उनके द्वारा किए गए योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। उन जैसी प्रखर वक्ता और करुणामयी शक्शियत जैसे लोगों की इस देश को जरुरत है। स्वर्गीय सुषमा स्वराज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में पहली बार विदेश मंत्री का पद संभाला था और उन्होंने अपने कार्य से गहरी छाप छोड़ी थी।

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने ट्वीट कर कहा, ‘‘पूर्व केंद्रीय मंत्री, सरलता व सौम्यता की प्रतिमूर्ति, मृदुभाषी एवं प्रखर वक्ता, पद्म विभूषण श्रीमती सुषमा स्वराज जी की पुण्यतिथि पर उन्हें नमन.” नड्डा ने ट्वीट करते हुए सुषमा स्वराज को जनता का नेता बताया और कहा की उनके द्वारा किये गए योगदान को भुलाया नहीं जा सकता।

वहीं इस समय के मौजूदा विदेश मंत्री एस जयशंकर ने उनकी पुण्यतिथि पर याद करते हुए कहा की वो मेरी ”प्रेरणा” है और उन्हें उनकी बहुत याद आती है।
आपको बता दे की पिछले साल जयशंकर ने विदेश मंत्री का पद संभाला है इससे पहले 2015-2018 के समय काल में वो विदेश सचिव थे उस समय सुषमा स्वराज विदेश मंत्री थी।

आपको बता दे की सुषमा स्वराज का प्रवासी भारतीयों के लिए किया गया कार्य अविस्मरणीय है। उन्होंने अपने कार्यकाल में प्रवासी मजदूरों की समस्या को प्राथमिकता में लेकर खड़ा कर दिया था। वो कहती थी अगर कोई भारतीय मार्स भी होगा तो भी उसकी मदद के लिए विदेश मंत्रालय वहा भी पहुंच जायेगा। सुषमा स्वराज का सोशल कनेक्ट बहुत अच्छा था। वो सबसे ज्यादा फॉलो करे जाने वाले विदेश मंत्रीओ में से एक थी। जो कोई भी भारतीय प्रवासी उनके पास मदद के लिए जाता वो उसकी मदद जरूर करती थीं। सुषमा स्वराज ने विदेश मंत्रालय का कार्य करने का पूरा तरीका ही बदल दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here