सालाना जीएसटी रिटर्न भरने की अंतिम तिथि 31 मार्च की जाए : कैट

0
93

कान्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि बढ़ाकर 31 मार्च 2019 करने की मांग की है। इस संबंध में कैट ने केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली को एक पत्र लिखा है। वित्तमंत्री को भेजे अपने पत्र में कैट ने कहा है कि आकलन वर्ष 2017-18 की वार्षिक जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2018 को बढ़ाकर 31 मार्च 2019 किया जाए।

कारोबारियों के संगठन ने कहा, “अभी तक जीएसटी पोर्टल पर वार्षिक रिटर्न दाखिल करने का प्रारूप अथवा विकल्प नहीं आया है, जिसके चलते देश भर में जीएसटी पोर्टल से पंजीकृत एक करोड़ से अधिक कारोबारियों द्वारा रिटर्न भरना मुश्किल है।”

कैट ने कहा कि इस रिटर्न को दाखिल करते समय संबंधित वर्ष के लिए पूर्व में भरे गए रिटर्न को संशोधित करने का यह आखिरी विकल्प है और देश भर में व्यापारियों को अभी यह जानकारी भी नहीं है की उन्हें वार्षिक रिटर्न भरना भी है, क्योंकि मूल्यवर्धित कर (वैट) या बिक्री कर में वार्षिक रिटर्न भरने का कोई प्रावधान नहीं।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी. भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा, “जीएसटी के लागू होने का 2017 -18 पहला वर्ष है इस नाते से जीएसटी से संबंधित अनेक विषयों से देशभर में व्यापारी अनभिज्ञ है।”

उन्होंने कहा कि व्यापारियों को यह मालूम ही नहीं है कि वार्षिक रिटर्न भरना उनके लिए क्यों महत्वपूर्ण हैं और इस नहीं भरने का परिणाम क्या होगा।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here