कृष्ण जन्माष्टमी 2020: कैसे करें भगवान कृष्ण का श्रृंगार, जानिए पूजा विधि

0

हिंदू धर्म को मानने वाले लोगो के लिए कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार बहुत ही महत्व रखता हैं वही जन्माष्टमी का पर्व इस साल 11 और 12 अगस्त को मनाया जा रहा हैं गृहस्थ और पारिवारिक लोग मंगलवार 11 अगस्त यानी की आज जन्माष्टमी का व्रत रख रहे हैं जबकि वैष्णव, संत या संन्यासी बुधवार कल यानी 12 अगस्त को व्रत रखेंगे। तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भगवान कृष्ण का श्रृंगार कैसे करें और उन्हें कौन सा भोग लगाएं तो आइए जानते हैं।

भगवान कृष्ण के श्रृंगार में पुष्पों का खूब प्रयोग करें। पीले रंग के वस्त्र, गोपी चन्छन और चन्छन की सुगंध से इनका श्रृंगार करना चाहिए। भगवान कृष्ण के श्रृंगार में इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए। कि वस्त्र से लकर गहनों तक कुछ भी काले रंग का नहीं होना चाहिए। काले रंग का प्रयोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। वैजयंती के फूल अगर कृष्ण जी को अर्पित किया जाता हैं तो वह बहुत ही उत्तम माना जाता हैं। आज जन्माष्टमी के प्रसाद में पंचामृत जरूर अर्पित करना चाहिए। उसमे तुलसी दल भी डालना चाहिए। मेवा,माखन और मिसरी का भोग लगाएं। धनिये की पंजीरी भी अर्पित की जा सकती हैं इस दिन भगवान कृष्ण को पूर्ण सात्विक भोजन अर्पित करना चाहिए। जिसमें सभी तरह के व्यंजन हो। कृष्ण जन्माष्टमी पर बाल कृष्ण की स्थापना की जाती हैं भक्त अपनी आवश्यकता और मनोकामना के अनुसार जिस स्वरूप को चाहें स्थापित कर सकते हैं प्रेम और दाम्पत्य जीवन के लिए राधा कृष्ण की, संतान के लिए बाल कृष्ण और सभी मनोकामनाओं के लिए बंसी वाले कृष्ण की स्थापना की जाती हैं इस दिन शंख और शालिग्राम की स्थापना भी कर सकते हैं यह शुभ माना जाता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here