हाथ से खाने को क्यों माना जाता है अच्छा, जानिए वजह

0

हिंदू धर्म में व्यक्ति के जीवन से जुड़ी हर बातों को विस्तार से बताया गया हैं वही हाथ से खाना खाने की भारतीयों की बहुत पुरानी परंपरा हैं पुरातन समय से ही हमारे पूर्वज, ऋषि और महात्मा हाथ से खाने की प्रेरणा देते आए हैं। मगर आज स्थितियां बदल रही हैं हाथ से खाने के बजाय चम्मच अथवा काटों के सहारे भोजन करते हैं। वही आज हम आपको बताने जा रहे हैं हाथ से खाना खाने के पीछे क्या कारण हैं तो आइए जानते हैं।Image result for हाथ से खाने को क्यों माना जाता है अच्छा

बता दें कि जब व्यक्ति हाथ से खाना खाता हैं तब उसकी उंगलियों और अंगूठे से जो मुद्रा बनती हैं उससे शरीर में एक विशेष उर्जा उत्पन्न होती हैं जो व्यक्ति के शरीर को स्वस्थ रखने में सहायक होती हैं शरीर पांच तत्वों के योग से बना हैं जिन्हें जीवन उर्जा के नाम से जाना जाता हैं और इन्हीं पांच तत्वों की उपस्थिति हाथों की उंगलियों में होती हैं Image result for हाथ से खाने को क्यों माना जाता है अच्छाइसमें अंगूठे में अग्नि, तर्जनी में वायु, मध्यमा में आकाश, अनामिका में पृथ्वी और सबसे छोटी उंगली तत्व का प्रतीक मानी गई हैं ऐसा माना जाता हैं कि जब हाथ से भोजन ग्रहण करते हैं तो उंगलियों से बनने वाली मुद्रा से पंच तत्वों का प्रतिनिधित्व मिलता हैं।Image result for हाथ से खाने को क्यों माना जाता है अच्छा वही हाथ से खाना खानें में भोजन का अलग अहसास होता हैं मगर इसमें केवल स्वाद ही मुख्य कारक नहीं हैं। इसका एक तार्किक कारण भी हैं जब व्यक्ति चम्मच से खाना खाते हैं तो खाने के तापमान का अंदाजा नहीं हो पाता, मगर खाना खाएंगे तो व्यक्ति को इस तापमान का आसानी से अहसास रहेगा। यही नहीं जब व्यक्ति हाथ से खाना खाएंगे तो स्वभाविक रूप से पहले उन्हें साफ करेंगे जबकि चम्मच का प्रयोग करने पर व्यक्ति कई बार सफाई का ध्यान नहीं देता हैं।
Image result for हाथ से खाने को क्यों माना जाता है अच्छा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here