एक वोट की कीमत समझने के लिए जरूर पढ़ें ये किस्से, बदल जाती हैं सरकारें

0
71

जयपुर। राजस्थान में आज 7 दिसंबर को विधानसभा के चुनाव हो रहे हैं और इसके लिए मतदान प्रतिशत अधिक से अधिक बढ़ाने के लिए सभी लोग का बात कर रहे हैं चुनाव आयोग से लेकर सभी राजनीतिक के लिए चाहते हैं कि आप अपने मतदान का उपयोग करें इसीलिए आज हम आपको आपके मतदान की कीमत समझाने के लिए कहानी सुनाने जा रहे हैं जिसमें आपको बताएंगे कि एक मतदान कितना अहम हो सकता है.

भारत से लेकर फ्रांस और फ्रांस से लेकर अमेरिका हर जगह आपको ऐसी कहानियां मिल जाएगी जो आपको पता है कि कि कैसे एक वोट की ताकत कितनी महत्वपूर्ण होती है लेकिन आज जो हम आपको कहानी बताने जा रहे हैं वह राजस्थान की है राजस्थान में 2008 के विधानसभा चुनाव में एसीपी जोशी उस दौरान मुख्यमंत्री पद के लिए प्रबल दावेदार थे.

लेकिन किस्मत उनका साथ नहीं दे पाई और वह अपना चुनाव से 1 वोट से हार गए थे राजस्थान में सीपी जोशी को 2008 के विधानसभा चुनाव में 16 और कल्याण के सामने बीजेपी से चुनाव लड़ रहे थे उन्हें उनसे मिल गया कहा जाता है कि उस वक्त सीपी जोशी के परिवार ने ही उन्हें वोट नहीं दिया क्योंकि वह वोट डालने गए थे.

बताया जाता है कि जोशी की मां की सीपी जोशी की पत्नी और उनके ड्राइवर नहीं उस वक्त मतदान का प्रयोग नहीं किया था अगर इन तीनों ने मतदान किया होता तो उसको सीपी जोशी चुनाव जीत गए होते और हो सकता है कि वह कांग्रेस से मुख्यमंत्री बन जाते लेकिन आपको बता दें 2008 में अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने थे क्योंकि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here