जानें, रात को मुंह छिपाए स्कूटर से सड़कों पर क्यों निकलीं पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी

0

पुडुचेरी। शनिवार सुबह करीब सवा नौ बजे पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने एक ट्वीट किया जो प्रमुख समाचार चैनलों की सुर्खियां बन गया है। दरअसल, LGov_Puducherry के ट्वीटर अकाउंट से किरण बेदी ने एक फोटो शेयर करते हुए लिखा कि मैनें आधी रात को शहर की सड़कों पर महिलाओं की सुरक्षा का जायजा लेने के लिए दौरा किया। पुडुचेरी में महिलाएं रात में भी सुरक्षित हैं लेकिन वह पुलिस प्रशासन को कुछ जरूरी सुझाव देगी। वहीं बेदी ने लोगों से अपील करते हुए लिखा कि जरूरत पड़ने पर लोग 100 नंबर पीसीआर उपयोग करें और अपनी परेशानी को उनसे बताएं।

ट्वीटर के जरिए शेयर की गई इस फोटो में किरण बेदी एक स्कूटर की पिछली सीट पर दुपट्टे से अपना मुहं छिपाये बैठे दिखाई दे रही है। फोटो में स्पष्ट दिख रहा है कि यह रात के समय ली गई फोटो है। बताया जा रहा है कि किरण बेदी द्वारा किए गए इस गोपनीय दौरे की जानकारी पुलिस व प्रशासन को भी नहीं थी। दौरे को गोपनीय रखने की वजह बताई जा रही है कि किरण बेदी जानना चाहती थी कि शहर में रात के समय महिलाओं की सुरक्षा के क्या बंदोबस्त हैं। वहीं खामियों को किस प्रकार दूर किया जा सकता है।

गौरतलब है कि किरण बेदी भारत की पहली महिला आईपीएस ऑफिसर रह चुकी हैं। उन्होने साल 1972 से 2007 तक सेवाएं दी व स्वेच्छा से सेवानिवृति ली। बेदी ने खुफिया विभाग के स्पेशल कमिश्नर पद पर भी कार्य किया है। वहीं अपने शानदार कार्यों के लिए बेदी को मैग्सेसे अवॉर्ड से भी नवाजा चुका है। साल 2012 में बेदी दिल्ली में चल रहे अन्ना आंदोलन से जुड़ी। जिसके बाद उन्होने राजनीति में आने का निर्णय लेते हुए भारतीय जनता पार्टी ज्वॉइन की। इस दौरान वो दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी उतरीं लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा। बाद में उनको बीजेपी ने देश के 7 केंद्रशासित प्रदेशों में से एक पुडुचेरी का उपराज्यपाल बनाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here