इस मंदिर में लगातार बढ़ रहा श्री गणेश की मूर्ति का आकार, चमत्कार देख भक्तों का लग रहा तांता

0
707

जयपुर। भारत जहां मंदिरों का देश है वहीं यहां हमेशा कुछ न कुछ चमत्कार घटते रहते हैं जिनकों देख कर मन में भगवान के प्रति विश्वास बढ जाता है। आज ऐसे ही एक चमत्कार के बारे मे हम इस लेख में आपकों बता रहें है। जिसपर शायद आप आसानी से विश्वास तो नहीं करेंगे लेकिन ये सत्य बात है।

आज इस लेख में हम चमत्कारी मंदिर के बारे में बता रहें हैं भारत के आंध्र प्रदेश के कनिपकम में स्थित विनायक मंदिर हैं। यह मंदिर भगवान गणेश को समर्पित है, इस मंदिर का निर्माण चोल वंश ने 11 शताब्दी में करवाया फिर इस मंदिर को विजयनगर के शासकों ने विस्तार कराया।

इस मंदिर भगवान गणेश की प्रतिमा को चमत्कारी माना जाता है। इसके संबंध में अनेक चमत्कार  प्रसिद्ध है। इस प्रतिमा के लिए माना जाता है कि यह प्रतिमा अपने स्थापित्य के समय से अभी तक अपने आकार को बढ़ाती जा रही है। इस प्रतिमा के बारे में कहा जाता है कि यह पहले बिना आकार का पत्थर था लेकिन अब इस प्रतिमा में पेट और घुटने नजर आने लगे हैं।

कनिपकम विनायक की इस प्रतिमा के लिए कहा जाता है कि यह प्रतीमा दो पक्षों के झगड़े सुलझाती है। इस मंदिर में लोग गणेश जी की प्रतिमा के पास कुएं की ओर मुंह कर विनायक की शपथ लेकर अपने आपसी मामले हल करते हैं।

इस मंदिर में ली गइ शपथ के लिए यहा के स्थानीय लोगों के लिए यह शपथ किसी भी कानून या न्याय से बड़ी है। यही वजह है कि कनिपकम सिद्धि विनायक मंदिर की लोकप्रियता पूरे देश में फैल चुकी है। स्थानीय न्यायालयों में भी प्रतिमा की शपथ दिलाकर गवाही लेने का विशेष प्रावधान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here